if you want to remove an article from website contact us from top.

    नरेंद्र मोदी कौन से नंबर के प्रधानमंत्री हैं

    Mohammed

    Guys, does anyone know the answer?

    get नरेंद्र मोदी कौन से नंबर के प्रधानमंत्री हैं from screen.

    नरेंद्र मोदी

    नरेंद्र मोदी

    विकिपीडिया से नरेन्द्र मोदी

    प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी

    भारत के 14वाँँ परधानमंत्री

    Taking office

    26 मई 2014

    राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी

    Succeeding मनमोहन सिंह

    गुजरात के 14वाँँ मुख्यमंत्री

    पद पर रहलें

    7 अक्टूबर 2001 – 22 मई 2014

    गवर्नर सुन्दरसिंह भण्डारी

    कैलाशपति मिश्र बलराम जाखड़ नवलकिशोर शर्मा एस॰ सी॰ जमीर कमला बेनीवाल

    इनसे पहिले केशूभाई पटेल

    इनके बाद आनंदीबेन पटेल

    निजी जानकारी

    जनम नरेन्द्र दामोदरदास मोदी

    सितंबर 17, 1950 (उमिर 72)

    वड़नगर, गुजरात, भारत

    राजनीतिक पार्टी भारतीय जनता पार्टी

    जीवनसाथी जसोदाबेन चिमनलाल[1]

    महतारी संस्था दिल्ली विश्वविद्यालय

    गुजरात विश्वविद्यालय

    दस्खत

    वेबसाइट निजी वेबसाइट

    नरेन्द्र दामोदरदास मोदी (17 सितम्बर 1950) एगो भारतीय राजनीतिज्ञ आ भारत के 14वाँ आ वर्तमान परधानमंत्री बाड़ें। मोदी 26 मई 2014 के प्रधानमंत्री पद के शपथ लिहलें। भारत के अबतक भइल प्रधानमंत्री लोग में मोदी आजाद भारत में जनमल पहिला प्रधानमंत्री बाड़ें। एकरा पहिले ऊ गुजरात के मुख्यमंत्री रहलें आ वर्तमान में बनारस लोकसभा सीट से सांसद बाङे। नरेंद्र मोदी भारतीय जनता पार्टी के सदस्य, हिंदू राष्ट्रवादी आ दक्खिनपंथी संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सदस्य हवें।

    बडनगर में एगो गुजराती परिवार में पैदा मोदी, बचपन में अपना बाबूजी के चाय के दुकान पर मदद करें, बाद में आपन दुकान लगावे लगलें। स्वयंसेवक संघ से उनके परिचय आ जुड़ाव आठ बरिस के उमिर में भइल। ग्रेजुएशन के पढ़ाई के बाद मोदी घर छोड़ दिहलें, कारण बियाह बतावल जाला जेकरा के मोदी स्वीकार ना कइलें। दू साल खातिर भारत के बिबिध इलाका सभ में घूमे के बाद 1969 या 1970 में अहमदाबाद लवटलें। 1971 में आरएसएस के फुल-टाइम मेंबर बन गइलें आ 1975 के इमरजेंसी के दौर में कुछ दिन इनके लुकाये के परल। 1985 में आरएसएस इनके भाजपा में भेज दिहलस, पार्टी के बिबिध पद पर रह के काम करत साल 2001 में एकर जनरल सेक्रेटरी बनलें।

    2001 में नरेंद्र मोदी के गुजरात के मुख्यमंत्री नियुक्त कइल गइल जवना के कारण तत्काल के मुख्यमंत्री केशूभाई पटेल के खराब सेहत आ भुज के भूडोल के बाद उनके छवि में गिरावट रहल। जल्दिये मोदी बिधायक के रूप में चुन लिहल गइलें। मोदी के प्रशासन के 2002 के गुजरात दंगा में भूमिका होखे के बात कहल जाला,[नोट 1] या फिर दंगा करावे के आरोप भी लगावल जाला, हालाँकि कोर्ट के कौनों अइसन सबूत ना मिलल जेकरा आधार पर एक मामिला में मोदी के कौनों सजा दिहल जा सके।[नोट 2] मुख्यमंत्री के रूप में गुजरात में आर्थिक बढ़ती के आगे रखे में उनके नीति के तारीफ कइल जाला,[9] जबकि सेहत-सुबिधा, आ शिक्षा के बिकास के आगे बढ़ावे के मामिला में आ गरीबी दूर करे में बिफल रहे खातिर उनके सरकार के आलोचना होले।[नोट 3]

    मोदी 2014 के आम चुनाव में भाजपा के अगुआई कइलेन आ पार्टी लोकसभा में बहुमत से आइल। कौनों पार्टी के 1984 के बाद से पूर्ण बहुमत पहिली बेर मिलल बा। मोदी खुद बनारस लोक सभा सीट से चुनल गइलें। परधानमंत्री बनले के बाद से मोदी प्रशासन के कोसिस रहल बा कि देस में बिदेसी डाइरेक्ट निवेश के बढ़ावा दिहल जाय, मूलभूत संरचना पर खरच ढेर कइल जाय, आ स्वास्थ्य आ सामाजिक कल्याण के ऊपर होखे वाला खर्चा में कटौती कइल जाय। मोदी के सारकार द्वारा ब्यूरोक्रेसी के दक्षता बढ़ावे आ आ सेंट्रलाइज हो चुकल पावर के छितरावे के कोसिस में योजना आयोग के भंग क दिहल गइल बा। इनके द्वारा देस भर में हाई-प्रोफाइल सफाई अभियान चलावल गइल बा आ पर्यावरण आ मजूरी संबंधी कानून के कमजोर भा खतम क दिहल गइल बा। मोदी के देस के राजीनीत के दक्खिनपंथी राजनीति के तरफ ओरमावे खातिर इंजीनियरी करे के क्रेडिट दिहल जाला आ इनके हिंदू राष्ट्रवादी बिसवास आ गुजरात दंगा में भूमिका के ले के देस में आ देस के बाहर बिबादास्पद छवी बा; एह दुनों बात के, सामाजिक भेदभाव वाला एजेंडा रखे वाला ब्यक्ति होखे के सबूत के तौर पर भी प्रस्तुत कइल जाला।[नोट 4]

    सुरुआती जीवन आ शिक्षा[संपादन करीं]

    नरेंद्र मोदी के जनम 17 सितंबर 1950 के एगो गुजराती परिवार में, मेहसाणा जिला (ओह समय के बांबे स्टेट, अब गुजरात) के वडनगर में भइल। बाबूजी दामोदरदास मूलचंद मोदी (c.1915 - 1989) आ महतारी हीराबेन मोदी (जनम c.1920) के छह गो में नरेंद्र मोदी तिसरा संतान रहलें।[18] मोदी के परिवार मोध-घाँची-तेली समुदाय के हवे,[19][20][21] जेकरा के सरकारी तौर पर अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) में गिनल जाला।[22][23]

    लरिकाईं में मोदी वडनगर रेलवे टीशन पर चाय बेचे में अपने बाबूजी के मदद करें, बाद में अपना भाई के साथे खुद के छाया के दुकान बस अड्डा के लगे चलवलें।[24][25] मोदी साल 1967 में वडनगर से इंटर के इम्तिहान पास कइलें, जहाँ उनके एगो अध्यापक औसत दर्जा के बिद्यार्थी आ बाद-बिबाद में रूचि रखे वाला आ थियेटर में लगाव रखे वाला बिद्यार्थी के रूप में बतवलें।[26] बाद-बिबाद प्रतियोगिता में मोदी के कुशलता उनके संघे पढ़े वाला बिद्यार्थी आ उनके मास्टर साहब लोग चिन्हित कइल।[27] मोदी नाटकन (थियेटरन) में बहुत बिसाल व्यक्तित्व (लार्जर-देन-लाइफ) वाला किरदार निभावल पसंद करें जे उनके राजनीतिक कैरियर में भी झलके ला।[28][29]

    आठ बरिस के उमिर में मोदी के राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के बारे में मालुम भइल आ ऊ लोकल शाखा में जाए सुरू कइलेन। एकरे बाद मोदी लक्ष्मणराव इनामदार, जिनके वकील साहब के नाँव से जानल जाय, मिलने आ उहे इनका के बालस्वयंसेवक बनवलें आ इनके राजनीतिक अभिभावक बनलें।[30] आरएसएस में अपना शिक्षा के दौरान मोदी वसंत गजेंद्रगाडकर आ नाथालाल जघड़ा से मिललें जे लोग भारतीय जनसंघ के नेता आ 1980 में भारतीय जनता पार्टी के गुजरात इकाई के संस्थापक सदस्य रहल लोग।[31] पढ़ाई के दौरान लरिकाईंये में इनके बियाह जसोदाबेन नरेंद्रभाई मोदी से तय हो गइल जेकरा के मोदी ना स्वीकार कइलें [32] आ एही कारन उपजल पारिवारिक तनाव के कारन 1967 में घर छोड़ देवे के फैसला कइलें।[33]

    एकरे बाद मोदी दू साल उत्तर भारत आ पूर्वोत्तर भारत के जगह-जगह घुमलें, कवना-कवना जगह गइलें आ रहलें एकरे बारे में बहुत बिबरन ना मिले ला।[34] अपना इंटरभ्यू में मोदी, स्वामी विवेकानंद के स्थापित बेलूर मठ (कलकत्ता लगे), एकरे बाद अल्मोड़ा के अद्वैत आश्रम आ रामकृष्ण मिशन, राजकोट जाए के बात कहले बाने। एह में से हर जगह कुछे दिन खातिर रह पवलें काहें कि उनके कॉलेज के शिक्षा अभिन पूरा ना भइल रहल।[35][36][37] विवेकानंद के इनके जीवन पर बहुत परभाव बतावल जाला।[38]

    स्रोत : bh.wikipedia.org

    प्रधानमंत्री

    यह भारत का राष्ट्रीय पोर्टल है जिसका विकास भारत सरकार के विभिन्‍न संगठनों द्वारा दी जा रही सेवाओं और सूचनाओं की जानकारी एक ही स्‍थान पर उपलब्‍ध कराने के उद्देश्‍य से किया गया है।

    मुख्‍य सामग्री पर जाएं

    साइन इन करें पंजीकरण करें English

    मुख्य पृष्ठसरकारकौन क्या हैप्रधानमंत्री

    Prime Minister

    कौन क्या है

    प्रधानमंत्री

    श्री नरेन्द्र मोदी

    प्रधानमंत्री के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

    संपर्क करें:

    प्रधानमंत्री कार्यालय

    साउथ ब्लॉक, रायसीना हिल

    नई दिल्ली -110011

    फोन: +91-11-23012312

    फैक्स: +91-11-23019545, 23016857

    : https://www.facebook.com/narendramodi

    : https://twitter.com/narendramodi

    प्रधानमंत्री के साथ बातचीत करें

    क्या यह जानकारी उपयोगी थी?

    स्रोत : www.xn--i1bj3fqcyde.xn--11b7cb3a6a.xn--h2brj9c

    नरेन्द्र मोदी

    नरेन्द्र मोदी

    मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से

    नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ नरेन्द्र मोदी

    आधिकारिक फोटो, २०२२

    भारत के 14वें प्रधानमन्त्री

    पदस्थकार्यालय ग्रहण 

    भारांग: ज्येष्ठ 5, 1936

    ग्रेगोरी कैलेण्डर: मई 26, 2014

    राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी

    राम नाथ कोविन्द द्रौपदी मुर्मू

    पूर्वा धिकारी मनमोहन सिंह

    सांसद, लोकसभा

    पदस्थकार्यालय ग्रहण 

    भारांग: वैशाख 26, 1936

    ग्रेगोरी कैलेण्डर: मई 16, 2014

    पूर्वा धिकारी मुरली मनोहर जोशी

    चुनाव-क्षेत्र वाराणसी

    गुजरात के 14वें मुख्यमन्त्री

    पद बहाल

    7 अक्टूबर 2001 – 22 मई 2014

    राज्यपाल सुन्दर सिंह भण्डारी

    कैलाशपति मिश्र बलराम जाखड़ नवलकिशोर शर्मा एस. सी. जमीर कमला बेनीवाल

    पूर्वा धिकारी केशूभाई पटेल

    उत्तरा धिकारी आनन्दीबेन पटेल

    जन्म 17 सितम्बर 1950 (आयु 72)

    वड़नगर, गुजरात, भारत

    जन्म का नाम नरेन्द्र दामोदरदास मोदी

    राष्ट्रीयता भारतीय

    राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी

    जीवन संगी जसोदाबेन चिमनलाल[1]

    शैक्षिक सम्बद्धता दिल्ली विश्वविद्यालय

    गुजरात विश्वविद्यालय

    धर्म हिन्दू हस्ताक्षर

    जालस्थल आधिकारिक जालस्थल

    नरेन्द्र भाई दामोदरदास मोदी[a] (उच्चारण सहायता·सूचना, गुजराती: નરેંદ્ર દામોદરદાસ મોદી; जन्म: भारांग: भाद्रपद 26, 1872 / ग्रेगोरी कैलेण्डर: सितम्बर 17, 1950) 26 मई 2014 से अब तक लगातार दूसरी बार वे भारत के प्रधानमन्त्री बने हैं तथा वाराणसी से लोकसभा सांसद भी चुने गये हैं।[2][3] वे भारत के प्रधानमन्त्री पद पर आसीन होने वाले स्वतन्त्र भारत में जन्मे प्रथम व्यक्ति हैं। इससे पहले वे 7 अक्तूबर 2001 से 22 मई 2014 तक गुजरात राज्य के मुख्यमन्त्री रह चुके हैं। मोदी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सदस्य हैं।[4]

    यह लेख इसका एक भाग है।

    नरेन्द्र मोदी

    गुजरात विधान सभा चुनाव

    2002  • 2007  • 2012

    जनमत सर्वेक्षण

    ग्रंथ सूचीसार्वजनिक छबि

    भारत के प्रधान मंत्री

    लोक सभा चुनाव, 2014  • शपथग्रहण  • भारतीय आम चुनाव, 2019  • दूसरा शपथ ग्रहण

    वैश्विक योगदान

    विदेश नीतिअंतर्राष्ट्रीय योग दिवसइन्स्टान्यू डेवलपमेंट बैंक

    भारत

    मन की बातस्वच्छ भारतविमुद्रीकरण

    जन धन योजनामुद्रा योजनाअटल पेंशन योजनाजीवन ज्योतिसुरक्षा बीमामेक इन इंडियाआदर्श ग्रामसड़क यातायात और सुरक्षा बिलउन्नत भारत अभियानसुकन्‍या समृद्धिउजाला योजनाउज्ज्वला योजना

    ---

    दवाब

    वडनगर के एक गुजराती परिवार में पैदा हुए, मोदी ने अपने बचपन में चाय बेचने में अपने पिता की मदद की, और बाद में अपना खुद का स्टाल चलाया। आठ वर्ष की आयु में वे आरएसएस से जुड़े, जिसके साथ एक लम्बे समय तक सम्बन्धित रहे।[5] स्नातक होने के बाद उन्होंने अपना घर छोड़ दिया। मोदी ने दो साल तक भारत भर में यात्रा की, और अनेकों धार्मिक केन्द्रों का दौरा किया। 1969 या 1970 वे गुजरात लौटे उसके बाद अहमदाबाद चले गए।[6] 1971 में वह आरएसएस के लिए पूर्णकालिक कार्यकर्ता बन गए। 1975 में देश भर में आपातकाल की स्थिति के समय उन्हें कुछ समय के लिए अज्ञातवास करना पड़ा। 1985 में वे बीजेपी से जुड़े और 2001 तक पार्टी पदानुक्रम के भीतर कई पदों पर कार्य किया, जहाँ से वे धीरे धीरे भाजपा में सचिव के पद पर पहुँचे गए।[7]

    गुजरात भूकम्प २००१, (भुज में भूकम्प) के बाद गुजरात के तत्कालीन मुख्यमन्त्री केशुभाई पटेल के असफल स्वास्थ्य और खराब सार्वजनिक छवि के कारण श्री नरेंद्र मोदी को 2001 में गुजरात के मुख्यमन्त्री पद पर नियुक्त किया गया। श्री नरेंद्र मोदी शीघ्र ही विधायी विधानसभा के लिए चुने गए। 2002 के गुजरात दंगों में उनके प्रशासन को कठोर माना गया है, इस समय उनके संचालन की आलोचना भी हुई।[8] हालाँकि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा नियुक्त विशेष जाँच दल (एसआईटी) को अभियोजन पक्ष की कार्यवाही आरम्भ करने के लिए कोई प्रमाण नहीं मिला।[9] गुजरात के मुख्यमन्त्री के रूप में उनकी नीतियों को आर्थिक विकास को प्रोत्साहित करने के लिए श्रेय दिया गया।[10]

    वे गुजरात राज्य के 14वें मुख्यमन्त्री रहे। उन्हें उनके अच्छे कामों के कारण गुजरात की जनता ने लगातार 4 बार (2001 से 2014 तक) गुजरात का मुख्यमन्त्री चुना। गुजरात विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त श्री नरेन्द्र मोदी विकास पुरुष के नाम से जाने जाते हैं और वर्तमान समय में देश के सबसे लोकप्रिय नेताओं में से हैं॥[11] पत्रिका ने मोदी को पर्सन ऑफ़ द ईयर 2013 के 42 उम्मीदवारों की सूची में शामिल किया है।[12]

    अटल बिहारी वाजपेयी की तरह नरेन्द्र मोदी एक राजनेता और कवि हैं। वे गुजराती भाषा के अलावा हिन्दी में भी देशप्रेम से ओतप्रोत कविताएँ लिखते हैं।[13][14]

    उनके नेतृत्व में भारत की प्रमुख विपक्षी पार्टी भारतीय जनता पार्टी ने 2014 का लोकसभा चुनाव लड़ा और 282 सीटें जीतकर अभूतपूर्व सफलता प्राप्त की।[15] एक सांसद के रूप में उन्होंने उत्तर प्रदेश की सांस्कृतिक नगरी वाराणसी एवं अपने गृहराज्य गुजरात के वडोदरा संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ा और दोनों जगह से जीत दर्ज की।[16][17] उनके राज में भारत का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश एवं बुनियादी सुविधाओं पर खर्च तेजी से बढ़ा।[18] उन्होंने अफसरशाही में कई सुधार किये तथा योजना आयोग को हटाकर नीति आयोग का गठन किया।[19]

    इसके बाद वर्ष 2019 में भारतीय जनता पार्टी ने उनके नेतृत्त्व में दोबारा चुनाव लड़ा और इस बार पहले से भी ज्यादा बड़ी जीत हासिल हुई। पार्टी ने कुल 303 सीटों पर जीत हासिल की। भाजपा के समर्थक दलों यानी राजग को कुल 352 सीटें प्राप्त हुईं।[20] 30 मई 2019 को शपथ ग्रहण कर नरेन्द्र मोदी लगातार दूसरी बार प्रधानमन्त्री बने।[21]

    2019 के आम चुनाव में उनकी पार्टी की जीत के बाद, उनके प्रशासन ने जम्मू और कश्मीर की विशेष राज्य का दर्जा को रद्द कर दिया। उनके प्रशासन ने नागरिकता (संशोधन) अधिनियम, २०१९ भी पेश किया, जिसके परिणामस्वरूप देश भर में व्यापक विरोध प्रदर्शन हुए। मोदी अपने हिन्दू राष्ट्रवादी विश्वासों और 2002 के गुजरात दंगों के दौरान उनकी कथित भूमिका पर घरेलू और अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर विवाद का एक आँकड़ा बना हुआ है,[22] जिसे एक बहिष्कारवादी सामाजिक एजेण्डे के प्रमाण के रूप में उद्धृत किया गया है। मोदी के कार्यकाल में, भारत ने लोकतान्त्रिक बैकस्लेडिंग का अनुभव किया है।[23][24]

    स्रोत : hi.wikipedia.org

    Do you want to see answer or more ?
    Mohammed 7 day ago
    4

    Guys, does anyone know the answer?

    Click For Answer