if you want to remove an article from website contact us from top.

    2014 का लूसोफोनिया खेल, जो गोवा में आयोजित किया गया था, किस यूरोपीय देश के औपनिवेशिक पृष्ठभूमि वाले राष्ट्रों के बीच खेला जाता है?

    Mohammed

    Guys, does anyone know the answer?

    get 2014 का लूसोफोनिया खेल, जो गोवा में आयोजित किया गया था, किस यूरोपीय देश के औपनिवेशिक पृष्ठभूमि वाले राष्ट्रों के बीच खेला जाता है? from screen.

    KBC 14: 2014 का लूसोफोनिया खेल, जो गोवा में आयोजित किया गया था, किस यूरोपीय देश के औपनिवेशिक पृष्ठभूमि वाले रा

    KBC 14 Play Along 19 September, Kaun Banega Crorepati 14, Episode 32: 2014 का लूसोफोनिया खेल, जो गोवा में आयोजित किया गया था, किस यूरोपीय देश के औपनिवेशिक पृष्ठभूमि वाले राष्ट्रों के बीच खेला जाता है?

    quizdabbler

    Updated.2 घंटे पहले. New Delhi, Delhi, India

    KBC 14: 2014 का लूसोफोनिया खेल गोवा में आयोजित हुआ,किस यूरोपीय औपनिवेशिक वाले राष्ट्रों के बीच खेला जाता है?

    KBC Daily Play Along Quiz (फोटो साभार: Twitter/SonyTV)

    #KBC#KBC14#KaunBanegaCrorepati

    KBC 14 Play Along 19 September, Kaun Banega Crorepati 14, Episode 32: 2014 का लूसोफोनिया खेल, जो गोवा में आयोजित किया गया था, किस यूरोपीय देश के औपनिवेशिक पृष्ठभूमि वाले राष्ट्रों के बीच खेला जाता है?

    Posted bySandip Kumar

    KBC 14 Play Along 19 September, Kaun Banega Crorepati 14, Episode 32: 2014 का लूसोफोनिया खेल, जो गोवा में आयोजित किया गया था, किस यूरोपीय देश के औपनिवेशिक पृष्ठभूमि वाले राष्ट्रों के बीच खेला जाता है?

    ऑप्शन:

    A. बेल्जियम B. फ्रांस C. डेनमार्क D. पुर्तगाल

    उत्तर: D. पुर्तगाल

    2014 का लूसोफोनिया खेल, जो गोवा में आयोजित किया गया था, यूरोपीय देश के औपनिवेशिक पृष्ठभूमि वाले राष्ट्रों पुर्तगाल के बीच खेला जाता है. लुसोफोनिया खेल एक बहुराष्ट्रीय खेल है जो ACOLOP द्वारा आयोजित किया जाता है. अधिकांश देशों प्रतिस्पर्धा देशों है कि के सदस्य हैं कर रहे हैं CPLP लेकिन कुछ ऐसे देश हैं जहां महत्वपूर्ण पुर्तगाली समुदाय हैं या जिनका पुर्तगाल के साथ इतिहास है. भाग लेने वाले देश संस्थापक सदस्य अंगोला , ब्राजील , केप वर्डे , पूर्वी तिमोर , गिनी-बिसाऊ , मकाऊ मोजाम्बिक , पुर्तगाल और साओ टोमे और प्रिंसिपे , और सहयोगी सदस्य इक्वेटोरियल गिनी , भारत और श्रीलंका हैं.

    KBC 2022, KBC Play Along Online Quiz, 19 September के सभी सवाल और उनके जवाब

    2014 का लूसोफोनिया खेल, जो गोवा में आयोजित किया गया था, किस यूरोपीय देश के औपनिवेशिक पृष्ठभूमि वाले राष्ट्रों के बीच खेला जाता है?

    भारत के उपराष्ट्रपति, श्री जगदीप धनखड़ किस राज्य से हैं?

    इनमें से क्या चीज बिस्मिल्लाह खान और भीमसेन जोशी में समान है?

    सिंधु घाटी सभ्यता का एक महत्वपूर्ण पुरातात्विक स्थल धोलावीरा भारत के किस राज्य में स्थित है?

    आपको कार चलाने की अनुमति मिलते समय, ड्राइविंग लाइसेंस पर लिखे हुए एलएमवी का क्या अर्थ है?

    आहार में किस तत्व की कमी से घेंघा रोग हो सकता है, जिसमें गले में सूचन होती है?

    मालवा को एतिहासिक क्षेत्र आंशिक रूप से इनमें से किस राज्य में स्थित है?

    कौन सा मंत्रालय भारतीय जनगणना करता है?

    इनमें से कौन सा खेल 2010 में नई दिल्ली में आयोजित किया गया था?

    उस बूढ़ी महिला का नाम क्या था जिसने वनवास के दौरान भगवान राम से मिलने पर उन्हें फल दिए थे?

    ग्लोबल वार्मिंग के कारण, प्रवाल ब्लीच होकर इनमें से किस रंग में बदल जाते हैं?

    महात्मा गांधी कहां कैद थे, जब वह पूना समझौता के लिए सहमत हुए?

    खेदिव के स्टार मेडल के रूप में प्रचलित यह पदक उन सैनिकों को प्रदान किया जाता था जिन्होंने ब्रिटिश भारतीय सेना में इनमें से किस देश में सेवा दी थी?

    #KBC2022#KBCQuiz#kbcquestions#GeneralKnowledge#Entertainment

    ओपोई पर ट्रेंडिंग

    KBC 14: ग्लोबल वार्मिंग के कारण, प्रवाल ब्लीच होकर इनमें से किस रंग में बदल जाते हैं?

    KBC 14: भारत के उपराष्ट्रपति, श्री जगदीप धनखड़ किस राज्य से हैं?

    KBC 14: खेदिव के स्टार मेडल सैनिकों को प्रदान किया जाता था, ब्रिटिश भारतीय सेना में किस देश में सेवा दी थी?

    स्रोत : hindi.opoyi.com

    उपनिवेशवाद का इतिहास

    आम तौर पर हम दुनिया को सर्व मानव ज्ञान का योग बनाने के लिए आमंत्रित करते हैं। अब, हम दुनिया को सर्व मानव ज्ञान की ध्वनि बनाने के लिए आमंत्रित कर रहे हैं।

    [अनुवाद प्रक्रिया में हमारी मदद करें!]

    उपनिवेशवाद का इतिहास

    मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से

    नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

    1453 ई. में तुर्कों द्वारा कुस्तुनतुनिया पर अधिकार कर लेने के पश्चात् स्थल मार्ग से यूरोप का एशियायी देशों के साथ व्यापार बंद हो गया। अतः अपने व्यापार को निर्बाध रूप से चलाने हेतु नये समुद्री मार्गां की खोज प्रारंभ हुई। कुतुबनुमा, गतिमापक यंत्र, वेध यंत्रों की सहायता से कोलम्बस, मैगलन एवं वास्कोडिगामा आदि साहसी नाविकों ने नवीन समुद्री मार्गां के साथ-साथ कुछ नवीन देशों अमेरिका आदि को खोज निकाला। इन भौगोलिक खोजों के फलस्वरूप यूरोपीय व्यापार में अभूतपूर्व वृद्धि हुई। धन की बहुलता एवं स्वतंत्र राज्यों के उदय ने उद्योगों को बढ़ावा दिया। कई नवीन उद्योग स्थापित हुए। स्पेन को अमेरिका रूपी एक ऐसी धन की कुंजी मिली कि वह समृद्धि के चरमोत्कर्ष पर पहुँच गया। ईसाई-धर्म-प्रचारक भी धर्म प्रचार हेतु नये खोजे हुए देशों में जाने लगे। इस प्रकार अपने व्यापारिक हितों को साधने एवं धर्म प्रचार आदि के लिए यूरोपीय देश उपनिवेशों की स्थापना की ओर अग्रसर हुए और इस प्रकार यूरोप में उपनिवेश का आरंभ हुआ।

    उपनिवेशवाद का इतिहास साम्राज्यवाद के इतिहास के साथ अनिवार्य रूप से जुड़ा हुआ है। सन् 1500 के आसपास स्पेन, पुर्तगाल, ब्रिटेन, फ़्रांस और हालैण्ड की विस्तारवादी कार्रवाइयों को युरोपीय साम्राज्यवाद का पहला दौर माना जाता है। इसका दूसरा दौर 1870 के आसपास शुरू हुआ जब मुख्य तौर पर ब्रिटेन साम्राज्यवादी विस्तार के शीर्ष पर था। अगली सदी में जर्मनी और संयुक्त राज्य अमेरिका उसके प्रतियोगी के तौर पर उभरे। इन ताकतों ने दुनिया के विभिन्न हिस्सों में जीत हासिल करके अपने उपनिवेश कायम करने के ज़रिये शक्ति, प्रतिष्ठा, सामरिक लाभ, सस्ता श्रम, प्राकृतिक संसाधन और नये बाज़ार हासिल किये। साम्राज्यवादी विजेताओं ने अपने अधिवासियों को एशिया और अफ़्रीका में फैले उपनिवेशों में बसाया और मिशनरियों को भेज कर ईसाइयत का प्रसार किया। ब्रिटेन के साथ फ़्रांस, जापान और अमेरिका की साम्राज्यवादी होड़ के तहत उपनिवेशों की स्थापना दुनिया के पैमाने पर प्रतिष्ठा और आर्थिक लाभ का स्रोत बन गया। यही वह दौर था जब युरोपियनों ने अपनी सांस्कृतिक श्रेष्ठता के दम्भ के तहत साम्राज्यवादी विस्तार को एक सभ्यता के वाहक के तौर पर देखना शुरू किया।

    सन् 1442 के पश्चात यूरोपियनों एवं अमेरिकियों द्वारा बनाये गये उपनिवेश

    जिन देशों ने उपनिवेश बनाए उनमें से प्रमुख ये हैं-

    यूनाइटेड किंगडम फ्रांस बेल्जियम इटली जर्मनी पुर्तगाल स्पेन नीदरलैंड साँचा:JAP रूस साँचा:IO

    साम्राज्यवाद की दूसरी लहर ने सबसे पहले अफ़्रीका को अपना शिकार बनाया। इस महाद्वीप की हुकूमतें युरोपियन फ़ौजों के सामने आसानी से परास्त हो गयीं। बेल्जियम के लिए हेनरी स्टेनली ने कोंगो नदी घाटी पर कब्ज़ा कर लिया; फ़्रांस ने अल्जीरिया को हस्तगत करके स्वेज नहर का निर्माण किया और उसके जवाब में ब्रिटेन ने मिस्र पर कब्ज़ा करके इस नहर पर नियंत्रण कर लिया ताकि एशिया की तरफ़ जाने वाले समुद्री रास्तों पर उसका प्रभुत्व स्थापित हो सके। इसी के बाद फ़्रांस ने ट्यूनीशिया और मोरक्को को अपना उपनिवेश बनाया। इटली ने लीबिया को हड़प लिया। लातिनी और दक्षिणी अमेरिका में मुख्य तौर पर स्पेन के उपनिवेश रहे। इन क्षेत्रों की कई अर्थव्यवस्थाओं की लगाम अमेरिका और युरोपीय ताकतों के हाथों में रही।

    एक तरफ उन्नीसवीं में अफ्रीका के लिए साम्राज्यवादी होड़ चल रही थी, तो दूसरी ओर दक्षिण एशिया पर प्रभुत्व ज़माने की प्रतियोगिता भी जारी थी। उन्नीसवीं सदी के मध्य तक ब्रिटेन ईस्ट इण्डिया कम्पनी के ज़रिये भारत के बड़े हिस्से का उपनिवेशीकरण करके बेशकीमती मसालों और कच्चे माल की प्राप्ति शुरू कर चुका था। फ़्रांसीसी और डच भी उपनिवेशवादी प्रतियोगिता में जम कर हिस्सा ले रहे थे। उपनिवेशवाद के विकास में औद्योगिक क्रांति की भी अहम रही। अट्ठारहवीं शताब्दी के अन्तिम अवधि में हुई इस क्रांति ने उपनिवेशवाद के केंद्र यानी ब्रिटेन और उसकी परिधि यानी उपनिवेशित क्षेत्रों के बीच के रिश्तों को आमूलचूल बदल दिया। उपनिवेशित समाजों में और गहरी पैठ के अवसरों का लाभ उठा कर उद्योगपतियों और उनके व्यापारिक सहयोगियों ने गुलाम जनता श्रम का भीषण दोहन शुरू किया। अटलांटिक के आर-पार होने वाला ग़ुलामों का व्यापार भी उनके काम आया। उपनिवेशों के प्राकृतिक और मानवीय संसाधनों के शोषण से औद्योगिक क्रांति को छलांग लगा कर आगे बढ़ने की सुविधा मिली। उपनिवेश इस क्रांति के लिए कच्चे माल के सस्ते स्रोत बन गये।

    उपनिवेशों का अन्त[संपादित करें]

    राष्ट्रों द्वारा स्वतंत्रता प्राप्ति की काल-अवधियाँ

    द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद उपनिवेशवाद का प्रभाव तेज़ी से घटा। कुछ विद्वानों की मान्यता है कि अक्टूबर क्रांति के पश्चात ही औपनिवेशिक प्रणाली दरकने की शुरुआत हो गयी थी। 1945 के बाद स्पष्ट हो गया कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय पर उपनिवेशवाद विरोधी रुझान हावी हो चुके हैं। अमेरिका और सोवियत संघ ने इस दौर में पुराने किस्म के उपनिवेशवाद का जम कर विरोध किया और आत्म-निर्णय के सिद्धान्त का पक्ष लिया। युरोप की हालत इस समय तक बेहद कमजोर हो गयी थी। वह दूर-दराज़ में फैले हुए उपनिवेशों की आर्थिक लागत उठाने की हालत में नहीं था। नवगठित संयुक्त राष्ट्र संघ उपनिवेशों में चल रहे राष्ट्रवादी आंदोलनों के प्रभाव में वि-उपनिवेशीकरण की प्रक्रिया को प्रोत्साहित कर रहा था। नतीजे के तौर पर 1947 से 1980 के बीच में ब्रिटेन को क्रमशः भारत, बर्मा, घाना, मलाया और ज़िम्बाब्वे का कब्ज़ा छोड़ना पड़ा। इसी सिलसिले में आगे डच साम्राज्यवादियों को 1949 में इण्डोनेशिया से जाना पड़ा और अफ़्रीका में आख़िरी औपनिवेशिक ताकत के रूप में पुर्तगाल ने अपने उपनिवेशों को 1974-75 में आज़ाद कर दिया। 1954 में इंडो-चीन क्षेत्र और 1962 में अल्जीरिया के रक्तरंजित संघर्ष के सामने फ़्रांस को घुटने टेकने पड़े। साठ के दशक में ही भारत के प्रांत गोवा से पुर्तगाल ने अपना बोरिया-बिस्तर समेट लिया।

    स्रोत : hi.wikipedia.org

    [Solved] गोवा पर शासन करने वाला अंतिम यूरोपीय देश कौन स

    सही उत्तर पुर्तगाल है। Important Points गोवा पर शासन करने वाला अंतिम यूरोपीय देश पुर्तगाल था। पुर्तगालियों ने 1510 में गोवा पर आक्रम�

    Home General Knowledge Modern India (Pre-Congress Phase) Advent of Europeans

    Question

    Download Solution PDF

    गोवा पर शासन करने वाला अंतिम यूरोपीय देश कौन सा था?

    This question was previously asked in

    MP Police Constable Previous Paper 2 (Held On: 19 Aug 2017 Shift 2)

    Download PDF Attempt Online

    View all MP Police Constable Papers >

    नीदरलैंड इंग्लैंड पुर्तगाल फ्रांस

    Answer (Detailed Solution Below)

    Option 3 : पुर्तगाल Crack with

    India's Super Teachers

    FREE

    Demo Classes Available*

    Explore Supercoaching For FREE

    Free Tests

    View all Free tests >

    FREE

    History of Indian Constitution

    1.2Lac Users

    15 Questions 15 Marks 9 Mins

    Start Now

    Detailed Solution

    Download Solution PDF

    सही उत्तर पुर्तगाल है।

    Important Points

    गोवा पर शासन करने वाला अंतिम यूरोपीय देश पुर्तगाल था।

    पुर्तगालियों ने 1510 में गोवा पर आक्रमण किया।

    गोवा को 1961 में पुर्तगालियों से स्वतंत्रता मिली।

    गोवा पर लगभग 450 वर्षों तक पुर्तगालियों का शासन रहा।

    कोचीन भारत में पुर्तगालियों की प्रारंभिक राजधानी थी बाद में गोवा राजधानी बनी।

    ऑपरेशन विजय 1961 में गोवा को पुर्तगालियों से मुक्त कराने के लिए भारत के सशस्त्र बल की कार्रवाई थी।30 मई 1987 को गोवा पूर्ण विकसित राज्य बन गया।Additional Information

    1602 में भारत में डच ईस्ट इंडिया कंपनी का गठन किया गया था।

    डच ने 1759 में बेदेरा की लड़ाई में अपनी हार के बाद अंग्रेजी को स्वीकार किया।

    अंग्रेजी ईस्ट इंडिया कंपनी का गठन भारत में 1600 में हुआ था।फ्रांसीसी ईस्ट इंडिया कंपनी का गठन 1664 में कोलबर्ट द्वारा राज्य संरक्षण के तहत किया गया था।

    1760 में वांडिवाश की लड़ाई में फ्रांसीसी अंग्रेजों से पराजित हुए।

    Download Solution PDF

    Share on Whatsapp

    India’s #1 Learning Platform

    Start Complete Exam Preparation

    Daily Live MasterClasses

    Practice Question Bank

    Mock Tests & Quizzes

    Get Started for Free

    Download App

    Trusted by 3,16,55,021+ Students

    ‹‹ Previous Ques Next Ques ››

    More Advent of Europeans Questions

    Q1. पहला अंग्रेजी कारखाना हुगली नदी के तट पर _______ में स्थापित किया गया था।Q2. वास्कोडिगामा कहाँ का निवासी था:Q3. निम्नलिखित में से किसने वर्ष 1503 में भारत में पहला यूरोपीय किला बनवाया था?Q4. भारत में फ्रेंच ईस्ट इंडिया कंपनी की स्थापना कब हुई थी?Q5. ________ 1824 में ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के खिलाफ डॉक्ट्रिन ऑफ लैप्स के कार्यान्वयन के खिलाफ सशस्त्र विद्रोह का नेतृत्व करने वाले पहले भारतीय शासकों में से एक थे।Q6. बेदरा का युद्ध ब्रिटिश सेना और डच सेना के बीच कब लड़ा गया था?Q7. 26 जून, 1539 को शेरशाह और हुमायूँ के बीच युद्ध कहाँ हुआ था?Q8. ईस्ट इंडिया कंपनी को 31 दिसंबर ________ को एलिजाबेथ प्रथम द्वारा अंग्रेजी रॉयल चार्टर दिया गया था।Q9. निम्नलिखित में से कौन सा युग्म (कंपनी के गवर्नर-जनरल और युद्ध) सही सुमेलित नहीं है?Q10. ________ को प्रारंभिक तौर पर ईस्ट इंडीज के साथ व्यापार करने के लिए गठित किया गया था, लेकिन अंत में यह मुख्य रूप से भारतीय उपमहाद्वीप और चीन के साथ व्यापार तक ही सीमित हो गया-

    More Modern India (Pre-Congress Phase) Questions

    Q1. पहला अंग्रेजी कारखाना हुगली नदी के तट पर _______ में स्थापित किया गया था।Q2. निम्नलिखित में से कौन-सा एक, लॉर्ड वेलेज़ली की सहायक संधि प्रथा के निबंधन और शर्तों में शामिल नहीं  था?Q3. वास्कोडिगामा कहाँ का निवासी था:Q4. Match the following : (A) Kolhapur i) Bhagwantrao (B) Khandesh ii) Ramji Shirsath (C) Mumbai iii) Bhima Naik (D) Nasik iv) Gulmar DubeQ5. Who was the founder of 'Manav Dharma Sabha'?Q6. Bhagwantrao, the king of _______ was hanged on 20th May 1857 because the British suspected that he had helped the mutineers.Q7. Which of the following was the objective of Prathana Sabha?Q8. Which of the following statements are true about jaganath Shankar Seth? (a) Architect of Mumbai (b) First Fellow of Mumbai University (c) Established New English School (d) First Member of Bombay Province LegislatureQ9. Which Princely state got recognized as the first one to make primary education compulsory?Q10. वुड का नीति पत्र निम्नलिखित में से किससे संबंधित है?

    स्रोत : testbook.com

    Do you want to see answer or more ?
    Mohammed 18 day ago
    4

    Guys, does anyone know the answer?

    Click For Answer