if you want to remove an article from website contact us from top.

    gupt navratri 2023 date and time in hindi

    Mohammed

    Guys, does anyone know the answer?

    get gupt navratri 2023 date and time in hindi from screen.

    Magh Gupt Navratri 2023: When is Magh Gupt Navratri starting this is the auspicious time for Ghatasthapana

    Magh Gupt Navratri 2023 Date and Muhurat:  हिंदू धर्म में गुप्त नवरात्रि का विशेष महत्व होता है। गुप्त नवरात्रि में सात्विक और तांत्रिक पूजा की जाती है। Magh Gupt Navratri 2023: When is Magh Gupt Navratri starting this is the auspicious time for Ghatasthapana - Hindustan

    हिंदी न्यूज़ धर्म

    Magh Gupt Navratri 2023: माघ गुप्त नवरात्रि आज से, ये है घटस्थापना का शुभ मुहूर्त

    Magh Gupt Navratri 2023: माघ गुप्त नवरात्रि आज से, ये है घटस्थापना का शुभ मुहूर्त

    Magh Gupt Navratri 2023: माघ गुप्त नवरात्रि आज से, ये है घटस्थापना का शुभ मुहूर्त Magh Gupt Navratri 2023 Date and Muhurat:  हिंदू धर्म में गुप्त नवरात्रि का विशेष महत्व होता है। गुप्त नवरात्रि में सात्विक और तांत्रिक पूजा की जाती है।

    Saumya Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 22 Jan 2023 06:07 AM

    हमें फॉलो करें इस खबर को सुनें 0:00 / 4:03 ऐप पर पढ़ें

    Magh Gupt Navratri 2023:  गुप्त नवरात्रि का पर्व आदिशक्ति मां दुर्गा को समर्पित माना गया है। शारदीय व चैत्र नवरात्रि की तरह ही आषाढ़ व माघ गुप्त नवरात्रि का विशेष महत्व है। गुप्त नवरात्रि में सात्विक और तांत्रिक पूजा की जाती है। साल भर में कुल 4 बार नवरात्रि आते हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, गुप्त नवरात्रि तंत्र-मंत्र को सिद्ध करने वाली माना जाता है। कहा जाता है कि गुप्त नवरात्रि में तांत्रिक महाविद्याओं को भी सिद्ध करने के लिए मां दुर्गा की उपासना की जाती है। गुप्त नवरात्रि में प्रतिपदा से लेकर नवमी तिथि तक मां दुर्गा के अलग-अलग स्वरूपों की पूजा की जाती है। मान्यता है कि गुप्त नवरात्रि में मां दुर्गा की उपासना करने से भक्त की हर मनोकामना पूरी होती है।माघ गुप्त नवरात्रि 2023 आज से

    माघ महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से गुप्त नवरात्रि प्रारंभ होते हैं, जिनका समापन नवमी तिथि को होता है। इस साल माघ गुप्त नवरात्रि की शुरुआत 22 जनवरी 2023 से होगी। इसका समापन 30 जनवरी 2023 को होगा। मां दुर्गा के भक्त इस दौरान आदिशक्ति की गुप्त तरीके से उपासना करेंगे।

    फरवरी महीने में इन 3 राशियों का भाग्योदय होना तय, धन लाभ के साथ प्रमोशन के योगमाघ गुप्त नवरात्रि 2023 घटस्थापना मुहूर्त-

    हिंदू पंचांग के अनुसार, माघ माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि 22 जनवरी 2023 को रात 02 बजकर 22 मिनट पर आरंभ होगी। जो कि 22 जनवरी को रात 10 बजकर 27 मिनट पर समाप्त होगी। ऐसे में घटस्थापना 22 जनवरी को करना उत्तम रहेगा। घटस्थापना का शुभ मुहूर्त सुबह 09 बजकर 59 मिनट से सुबह 10 बजकर 46 मिनट तक रहेगा। घटस्थापना की अवधि 48 मिनट है।

    मां दुर्गा के इन स्वरूपों की जाती है पूजा-

    गुप्त नवरात्रि में मां कालिके, तारा देवी, त्रिपुर सुंदरी, भुवनेश्वरी, माता चित्रमस्ता, त्रिपुर भैरवी, मां धूम्रवती, माता बगलामुखी, मातंगी और कमला देवी की पूजा की जाती है।

    घटस्थापना का शुभ मुहूर्त-

    माघ मास के गुप्त नवरात्रि के लिए घटस्थापना का अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12 बजकर 11 मिनट से दोपहर 12 बजकर 54 मिनट तक है। अभिजीत मुहूर्त की अवधि 43 मिनट है।

    देवगुरु बृहस्पति के उदित होते ही इन राशियों की बदल जाएगी किस्मत! दूर होगी धन की कमीअभिजीत मुहूर्त-

    घटस्थापना का अभिजीत मुहूर्त सुबह 11 बजकर 59 मिनट से दोपहर 12 बजकर 54 मिनट तक है। प्रतिपदा तिथि 10 जुलाई को सुबह 07 बजकर 47 मिनट से शुरू होगी, जो कि 11 जुलाई को सुबह 07 बजकर 47 मिनट पर समाप्त होगी।

    गुप्त नवरात्रि में प्रयोग में आने वाली सामग्री-

    मां दुर्गा की प्रतिमा या चित्र, सिंदूर, केसर, कपूर, जौ, धूप,वस्त्र, दर्पण, कंघी, कंगन-चूड़ी, सुगंधित तेल, बंदनवार आम के पत्तों का, लाल पुष्प, दूर्वा, मेंहदी, बिंदी, सुपारी साबुत, हल्दी की गांठ और पिसी हुई हल्दी, पटरा, आसन, चौकी, रोली, मौली, पुष्पहार, बेलपत्र, कमलगट्टा, जौ, बंदनवार, दीपक, दीपबत्ती, नैवेद्य, मधु, शक्कर, पंचमेवा, जायफल, जावित्री, नारियल, आसन, रेत, मिट्टी, पान, लौंग, इलायची, कलश मिट्टी या पीतल का, हवन सामग्री, पूजन के लिए थाली, श्वेत वस्त्र, दूध, दही, ऋतुफल, सरसों सफेद और पीली, गंगाजल आदि।

    अगला लेख पढ़ें

    Aaj Ka Rashifal : ग्रहों की स्थिति बहुत खराब, मेष, मिथुन, कर्क वाले बचकर पार करें समय, हनुमान जी की करें अराधना

    अगला लेखAaj Ka Rashifal : ग्रहों की स्थिति बहुत खराब, मेष, मिथुन, कर्क वाले बचकर पार करें समय, हनुमान जी की करें अराधना

    Gupt NavratriNavratriAstrology Todayअन्य..

    अपना राशिफल जाने मेष वृष मिथुन कर्क सिंह कन्या तुला वृश्चिक धनु मकर कुंभ मीन

    स्रोत : www.livehindustan.com

    Gupt Navratri 2023 Date: गुप्त नवरात्रि कल से शुरू, जानें घटस्थापना का मुहूर्त और पूजन विधि

    Gupt Navratri 2023 ghatsthapna: चैत्र नवरात्रि और शारदीय नवरात्रि के अलावा दो बार गुप्त नवरात्रि भी आते हैं. गुप्त नवरात्रि माघ और आषाढ़ मास में आते हैं. गुप्त नवरात्रि गोपनीय साधनाओं के लिए ज्यादा महत्वपूर्ण मानी जाती है. इसमें शक्तियों को प्राप्त किया जा सकता है.

    Hindi News धर्म धर्म की ख़बरें

    Gupt Navratri 2023 Date: गुप्त नवरात्रि कल से शुरू, जानें घटस्थापना का मुहूर्त और पूजन विधि

    Gupt Navratri 2023 Date: गुप्त नवरात्रि कल से शुरू, जानें घटस्थापना का मुहूर्त और पूजन विधि Gupt Navratri 2023 ghatsthapna: चैत्र नवरात्रि और शारदीय नवरात्रि के अलावा दो बार गुप्त नवरात्रि भी आते हैं. गुप्त नवरात्रि माघ और आषाढ़ मास में आते हैं. गुप्त नवरात्रि गोपनीय साधनाओं के लिए ज्यादा महत्वपूर्ण मानी जाती है. इसमें शक्तियों को प्राप्त किया जा सकता है.

    Gupt Navratri 2023 Date: गुप्त नवरात्रि कल से शुरू, जानें घटस्थापना का मुहूर्त और पूजन विधि

    aajtak.in

    नई दिल्ली, 21 जनवरी 2023,

    (अपडेटेड 21 जनवरी 2023, 6:10 PM IST)

    Follow us:

    Gupt Navratri 2023 Date: नवरात्रि वर्ष में चार बार मनाई जाती है. चैत्र नवरात्रि और शारदीय नवरात्रि के अलावा दो बार गुप्त नवरात्रि भी आते हैं. गुप्त नवरात्रि माघ और आषाढ़ मास में आते हैं. गुप्त नवरात्रि गोपनीय साधनाओं के लिए ज्यादा महत्वपूर्ण मानी जाती है. इसमें शक्तियों को प्राप्त किया जा सकता है. बाधाओं का नाश करने का वरदान भी मांगा जा सकता है. इस बार माघ महीने की गुप्त नवरात्रि 22 जनवरी से 30 जनवरी तक रहने वाली है.माघ गुप्त नवरात्रि में घटस्थापना का मुहूर्त

    गुप्त नवरात्रि की घटस्थापना प्रतिपदा तिथि को की जाती है. हिंदू पंचांग के अनुसार, माघ माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि 22 जनवरी को रात 02 बजकर 22 मिनट से लेकर 22 जनवरी को रात 10 बजकर 27 मिनट तक रहेगी. ऐसे में घटस्थापना 22 जनवरी की सुबह ही की जाएगी. इस दिन घटस्थापना का शुभ मुहूर्त सुबह 09 बजकर 59 मिनट से लेकर सुबह 10 बजकर 46 मिनट तक रहेगा.

    सामान्य और गुप्त नवरात्रि में अंतर

    सामान्य नवरात्रि में आमतौर पर सात्विक और तांत्रिक पूजा दोनों की जाती है. जबकि गुप्त नवरात्रि में ज्यादातर तांत्रिक पूजा की जाती है. गुप्त नवरात्रि में आमतौर पर प्रचार-प्रसार नहीं किया जाता है. इसमें साधना को गोपनीय रखा जाता है. गुप्त नवरात्रि में पूजा और मनोकामना जितनी ज्यादा गोपनीय होगी, सफलता उतनी ही ज्यादा मिलेगी.

    गुप्त नवरात्रि में मां की पूजा विधि

    गुप्त नवरात्रि में सामान्य नवरात्रि की तरह नौ दिनों के लिए कलश की स्थापना की जा सकती है. कलश की स्थापना करने वालों को दोनों वेला मंत्र जाप, चालीसा या सप्तशती का पाठ करना चाहिए. दोनों ही समय आरती भी करना अच्छा होगा. मां को दोनों वेला भोग भी लगाएं. इसमें लौंग और बताशा सबसे सरल और उत्तम भोग माने जाते हैं. मां के लिए लाल फूल सर्वोत्तम होता है. देवी को को आक, मदार, दूब और तुलसी बिलकुल न चढ़ाएं. पूरे नौ दिन अपना खान पान और आहार सात्विक रखें.

    शीघ्र रोजगार के लिए उपाय

    गुप्त नवरात्रि में देवी के समक्ष घी का दीपक जलाएं. नौ बताशे लें और हर बताशे पर दो लौंग रखें. अब सारे बताशे एक-एक करके देवी को अर्पित करें. यह प्रयोग नवरात्रि में किसी भी रात कर सकते हैं.

    शीघ्र विवाह के लिए उपाय

    देवी के समक्ष रोज एक घी का दीपक जलाएं. इसके बाद उनको रोज लाल फूलों की माला अर्पित करें. शीघ्र विवाह की प्रार्थना करें . यह प्रयोग नवरात्रि की हर रात्रि को करें.

    धन प्राप्ति के लिए उपाय

    पूरी गुप्त नवरात्रि में मध्य रात्रि को मां लक्ष्मी की उपासना करें. उनके सामने घी का दीपक जलाकर श्री सूक्तम का पाठ करें. पूरी नवरात्रि में सात्विक रहने का प्रयास करें.

    Live TV POST A COMMENT (1)

    आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

    Patatesin içine gül yerleştirin ve ne olduğuna bakın

    5 Min Tricks | Sponsored

    Sodyum Bikarbonatla İlgili Mutlaka Bilmeniz Gereken 20 İpucu

    MyHealthReads,com | Sponsored

    Ürünlerin üzerindeki bu gizemli delikler yalnızca bir başlngıç

    Food World Blog.com | Sponsored

    Beyaz Yastıkların Sırrı Sonunda Ortaya Çıktı! Hem De Çok Basit!

    And More | Sponsored

    Uzmanlar, Bahçenizde Bu Böceği Görürseniz Kaçın!

    Zenlifemag.com | Sponsored

    Karbonatı kullanabileceğinizi bilmediğiniz alanlar

    Fresh-Story.com | Sponsored

    Madame Coco'da Axess'e Özel Peşin Fiyatına 6 Taksit | Tüm Ürünlerde Sepette %50 + %20 İndirim

    Tüm Ürünlerde Sepette %50 + %20 İndirim | Madame Coco'da Axess'e Özel Peşin Fiyatına 6 Taksit

    Madame Coco | Sponsored

    Ya Birinci Dünya Savaşı hiç yaşanmamış olsaydı? Strateji oyunu tarihi senaryoları simüle ediyor

    Supremacy 1914 strateji oyunu alternatif tarihsel senaryoları simüle etmektedir.

    Tarihsel Strateji Oyunu

    | Sponsored

    Seçili ürünlerde %20 %30 indirim. Stoklar tükenmeden satın alın.

    Kiko Milano | Sponsored

    Sağlığınız nerede uyuduğunuza bağlıdır.

    GardensTricks.com | Sponsored

    Muhtemelen ne i̇çin faydalı olduğunu bilmediğiniz 16 şey

    LightAndCharm.com | Sponsored

    Gaz Brülörlerinizi Sadece 1 Dakikada Nasıl Temizlersiniz!

    House Tricks | Sponsored

    Sincap, aile ne göstermek istediğini anlayana kadar tam 8 yıl boyunca pencerelerine tıkladı

    Trendscatchers | Sponsored

    स्रोत : www.aajtak.in

    Magh Gupt Navratri 2023:सिद्धि योग में शुरू होगी माघ गुप्त नवरात्रि, जानें कलश स्थापना मुहूर्त और विधि

    Magh Gupt Navratri 2023 हिन्दू धर्म में नवरात्रि का विशेष महत्व है। साल में चार नवरात्रि पड़ती हैं। जिसमें प्रकट रूप से एक चैत्र नवरात्रि तथा आश्विन माह की शारदीय नवरात्रि और गुप्त रूप से माघ और आषाढ़ माह में नवरात्रि आती हैं।

    मेरा शहर Bageshwardham

    Bageshwar Dham Sarkar

    Bageshwardham Controversy

    Shani Amavasya 2023 Mauni Amavasya 2023

    Basant Panchami 2023 Mantra

    Ganesh Jayanti 2023 Shukrawar Ke Upay

    Magh Shivaratri 2023

    Basant Panchami 2023 Date

    Hindi News ›   Spirituality ›   Religion ›   Magh Gupt Navratri 2023 Date Kalash Sthapna Muhurt And Vidhi In Hindi

    Magh Gupt Navratri 2023: सिद्धि योग में शुरू होगी माघ गुप्त नवरात्रि, जानें कलश स्थापना मुहूर्त और विधि

    धर्म डेस्क, अमरउजाला, नई दिल्ली Published by: श्वेता सिंह Updated Fri, 20 Jan 2023 02:10 PM IST

    सार

    लेटेस्ट अपडेट्स के लिए फॉलो करें

    माघ गुप्त नवरात्रि का प्रारंभ 22 जनवरी दिन रविवार से हो रहा है। गुप्त नवरात्रि को गुप्त साधना और विद्याओं की सिद्धि के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है।

    सिद्धि योग में शुरू होगी माघ गुप्त नवरात्रि - फोटो : amar ujala

    Follow Us विज्ञापन

    गुड मॉर्निंग, खास आपके लिए

    #आज का अखबार

    #मनोरंजन मैगजीन

    #आज का राशिफल

    #आज का अंक ज्योतिष

    #वेब स्टोरीज़

    #न्यूज ब्रीफ

    विस्तार

    Magh Gupt Navratri 2023: हिन्दू धर्म में नवरात्रि का विशेष महत्व है। साल में चार नवरात्रि पड़ती हैं। जिसमें प्रकट रूप से एक चैत्र नवरात्रि तथा आश्विन माह की शारदीय नवरात्रि और गुप्त रूप से माघ और आषाढ़ माह में नवरात्रि आती हैं। इस साल माघ गुप्त नवरात्रि का प्रारंभ 22 जनवरी दिन रविवार से हो रहा है। गुप्त नवरात्रि को गुप्त साधना और विद्याओं की सिद्धि के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है। माघ गुप्त नवरात्रि का प्रारंभ माघ शुक्ल प्रतिपदा से होता है, जो नवमी तिथि तक होती है। इस साल माघ शुक्ल प्रतिपदा तिथि 22 जनवरी को और नवमी तिथि 30 जनवरी को है। आइए जानते हैं कलश स्थापना विधि और मुहूर्त के बारे में।

    Trending Videos

    सिद्धि योग में होगी गुप्त नवरात्रि आरंभ 

    22 जनवरी को माघ गुप्त नवरात्रि का आरंभ सिद्धि योग में होगा। प्रातः 10:06 बजे तक वज्र योग है और उसके बाद से सिद्धि योग लगेगा। सिद्धि योग अगले दिन यानि 23 जनवरी को प्रातः 05:41 बजे तक है।

    कलश स्थापना मुहूर्त

    22 जनवरी को माघ गुप्त नवरात्रि के कलश स्थापना अभिजीत मुहूर्त में की जाएगी।  इस दिन अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12:11 बजे से दोपहर 12:54 बजे तक है।

    कलश स्थापना विधि 

    घर के उत्तर पूर्व दिशा में कलश की स्थापना करें।

    कलश स्थापना से पूर्व उस जगह कोअच्छे से स्वच्छ कर लें।

    इसके बाद उसे गंगाजल छिड़ककर पवित्र करें।

    अब इस जगह पर कलश रखें और उस पर स्वास्तिक का चिह्न बनाएं और सिंदूर का टीका लगाएं।

    कलश के मुख पर कलावा बांधे।

    अब आप जिस स्थान पर कलश स्थापना करने जा रहे हैं, उसे हाथ को स्पर्श करते हुए  'ॐ भूरसि भूमिरस्यदितिरसि विश्वधाया विश्वस्य भुवनस्य धर्त्रीं, पृथिवीं यच्छ पृथिवीं दृग्वंग ह पृथिवीं मा हि ग्वंग सीः' मंत्र का उच्चारण करें।

    इसके बाद कलश रखने वाले स्थान पर सप्तधान बिछाते हुए  ' ॐ धान्यमसि धिनुहि देवान् प्राणाय त्यो दानाय त्वा व्यानाय त्वा, दीर्घामनु प्रसितिमायुषे धां देवो वः सविता हिरण्यपाणिः प्रति गृभ्णात्वच्छिद्रेण पाणिना चक्षुषे त्वा महीनां पयोऽसि' का उच्चारण करें।

    अब कलश को स्थापित करते हुए 'ॐ  आ जिघ्र कलशं मह्या त्वा विशन्त्विन्दव:, पुनरूर्जा नि वर्तस्व सा नः सहस्रं धुक्ष्वोरुधारा पयस्वती पुनर्मा विशतादयिः' मंत्र का उच्चारण करें।

    अब कलश को मिट्टी के दीये से ढक दें और उसके ऊपर नारियल आर चावल भरकर रख दें।

    विज्ञापन Advertisement

    ये भी पढ़ें...

    Sagittarius Horoscope Today: आज का धनु राशिफल 22 जनवरी, जानिए कैसा बीतेगा आपका पूरा दिन

    #religion #today horoscope Predictions 22 January 2023

    Amritsar News: कारीगर ही निकला लूट का मास्टरमाइंड, कुछ ही घंटे में काबू

    Amritsar 21 January 2023 प्रीमियम

    Somalia Crisis: सोमालिया में अकाल, संकट में बच्चे

    #famine in somalia #children in crisis #somalia news Opinion 22 January 2023

    MBA के लिए बी-स्कूल का चयन करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए? जानिए इनके बारे में

    Advertorial

    Ganesh Jayanti 2023: गणेश जयंती पर करें गणेश जी से जुड़े ये 4 उपाय, बनेंगे अटके हुए काम

    #ganesh chaturthi 2023

    #ganesh jayanti 2023

    Astrology 21 January 2023

    Optical Illusion: क्या जंगल में सात सेकेंड के अंदर चिड़िया को ढूंढ सकते हैं? सिर्फ पांच फीसदी लोग खोज पाए हैं

    #optical illusion

    #optical illusion images

    #viral photo Bizarre News 21 January 2023

    national religion spirituality

    अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

    Opel Crossland

    130 beygir benzinli motoru ile dinamik ama bir o kadar da verimli bir sürüş için keşfet.

    Opel | Sponsored

    Her Gün Bal ve Tarçın Yerseniz Böyle Olur

    Clever-Tricks.com | Sponsored

    PEUGEOT SUV 2008. PEUGEOT 3D i-Cockpit, Yarı Otonom Sürüş, EAT8 Tam Otomatik Şanzıman

    Peugeot | Sponsored

    Dubai'de Satılık Villalar Sizi Şaşırtabilir

    Arama Reklamları | Sponsored

    İndirim başladı! Tchibo.com.tr‘deki indirimleri kaçırmayın.

    Tchibo | Sponsored

    Bu yöntemle duş giderinin temizlenmesi inanılmaz kısa sürüyor!

    Kleine-Tricks.de | Sponsored

    Çorabına bir soğan koyarak uyu, olanlar seni şaşırtacak

    Kleine-Tricks.de | Sponsored

    Shani Gochar 2023: इन 5 राशियों के शुरू हुए अच्छे दिन, तेजी से बढ़ेगा बैंक बैलेंस, पूरी होंगी सभी इच्छाएं

    स्रोत : www.amarujala.com

    Do you want to see answer or more ?
    Mohammed 16 day ago
    4

    Guys, does anyone know the answer?

    Click For Answer