if you want to remove an article from website contact us from top.

    kiske badhane ke fal swaroop niji nivesh mein vriddhi ki adhik sambhavna hogi

    Mohammed

    Guys, does anyone know the answer?

    get kiske badhane ke fal swaroop niji nivesh mein vriddhi ki adhik sambhavna hogi from screen.

    निवेश

    निवेश

    मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से

    नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

    निवेश या विनियोग (investment) का सामान्य आशय ऐसे व्ययों से है जो उत्पादन क्षमता में वृद्धि लायें। यह तात्कालिक उपभोग व्यय या ऐसे व्ययों संबंधित नहीं है जो उत्पादन के दौरान समाप्त हो जाए। निवेश शब्द का कई मिलते जुलते अर्थों में अर्थशास्त्र, वित्त तथा व्यापार-प्रबन्धन आदि क्षेत्रों में प्रयोग किया जाता है। यह पद बचत करने और उपभोग में कटौती या देरी के संदर्भ में प्रयुक्त होता है। निवेश के उदाहरण हैं- किसी बैंक में पूंजी जमा करना, या परिसंपत्ति खरीदने जैसे कार्य जो भविष्य में लाभ पाने की दृष्टि से किये जाते हैं। सामान्यतः इसे किसी वर्ष में पूँजी स्टॉक में होने वाली वृद्धि के रूप में परिभाषित करते हैं। संचित निवेश या विनियोग ही पूँजी है।[1]

    निवेश आय का वह भाग है जो वास्तविक पूंजी निर्माण के लिये खर्च किया जाता है। इसमें नए पूंजीगत उपकरणों तथा मशीनों, नई इमारतों का निर्माण, स्टॉक में वृद्धि आदि को शामिल किया जाता है। केन्ज के अनुसार, "निवेश से अभिप्राय पूंजीगत पदार्थों में होने वाली वृद्धि से है।" प्रत्येक अर्थव्यवस्था में आर्थिक विकास और पूर्ण रोजगार के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिये निवेश का बहुत अधिक महत्व है। निवेश में वृद्धि होने के कारण कुल मांग में ही नहीं बल्कि कुल पूर्ति में भी वृद्धि होती है। इस प्रकार पूर्ण रोजगार को प्राप्त करने के लिये निवेश एक महत्वपूर्ण तत्व है।

    अनुक्रम

    1 प्रेरित निवेश और स्वचालित निवेश

    1.1 प्रेरित निवेश 1.2 स्वचालित निवेश

    2 निवेश को प्रभावित करने वाले तत्व

    3 निवेश गुणक

    3.1 निवेश गुणक की प्रक्रिया

    3.1.1 तुलनात्मक स्थैतिक विश्लेषण

    3.1.2 गत्यात्मक विश्लेषण

    3.2 गुणक के सिद्धान्त का महत्व

    3.3 गुणक की आलोचनाएं

    4 निवेश के सिद्धान्त

    4.1 पूंजी की सीमान्त उत्पादकता

    4.1.1 पूंजी की सीमान्त उत्पादकता को प्रभावित करने वाले तत्व

    4.1.2 पूंजी की सीमान्त उत्पादकता की आलोचनाएँ

    4.2 त्वरक सिद्धान्त 5 सन्दर्भ 6 बाहरी कड़ियाँ

    प्रेरित निवेश और स्वचालित निवेश[संपादित करें]

    निवेश को कई श्रेणियों में विभाजित किया जा सकता है। लेकिन आर्थिक दृष्टिकोण से निवेश को दो भागों में बांटा जा सकता हैः

    प्रेरित निवेश[संपादित करें]

    प्रेरित निवेश वह निवेश है जो आय तथा लाभ की मात्रा पर निर्भर करता है। यह निवेश आय तथा लाभ में होने वाले परिवर्तनों से प्रेरणा प्राप्त करता है। आय तथा लाभ के बढ़ने की सम्भावना से यह बढ़ता है तथा इसमें होने वाली कमी से यह कम होता जाता है। प्रेरित निवेश लाभ या आय सापेक्ष होता है। प्रेरित निवेश प्रायः निजी क्षेत्र में किया जाता है।

    स्वचालित निवेश[संपादित करें]

    स्वचालित निवेश वह निवेश है जो आय तथा उत्पादन की मात्रा के स्थान पर बाहरी तत्वों पर निर्भर करता है। यह निवेश आय प्रेरित नहीं होता। इस प्रकार यह निवेश आय में होने वाले परिवर्तन के आधार पर नहीं किया जाता है। इससे अभिप्राय उस निवेश से है जो नई तकनीकों, नये आविष्कारों को लागू करने के लिये लगाया जाता है। यह निवेश मन्दी तथा बेरोजगारी को दूर करने तथा नये साधनों का विकास करने के लिये किया जाता है।

    प्रेरित निवेश और स्वचालित निवेश में आधारभूत अन्तर यह है कि प्रेरित निवेश का आय के स्तर से धनात्मक सम्बन्ध है। आय के बढ़ रहे स्तर के साथ प्रेरित निवेश भी बढ़ता है। लेकिन स्वचालित निवेश आय के किसी भी स्तर पर स्थिर रहता है। प्रेरित निवेश की भांति स्वचालित निवेश लाभ

    निवेश को प्रभावित करने वाले तत्व[संपादित करें]

    एक अर्थव्यवस्था में निवेश को प्रभावित करने वाले प्रमुख तत्व इस प्रकार से हैः

    1. तकनीकि विकास तथा नये आविष्कार

    2. प्राकृतिक साधनों की खोज

    3. सरकारी नीतियां 4. विदेशी व्यापार 5. राजनीतिक वातावरण

    6. भविष्य में लाभ प्राप्ति की सम्भावनाएं

    7. जनसंख्या वृद्धि की दर

    8. क्षेत्रीय विस्तार

    9. कीमत स्तर 10 गुणक की अवधि

    11. निवेश के लिए वित्त की उपलब्धता

    12. श्रम बाजार की स्थिति

    13. पूंजी का वर्तमान स्टॉक

    14. कुल मांग में कमी या वृ़द्ध की सम्भावना

    निवेश गुणक[संपादित करें]

    अर्थशास्त्र में गुणक का प्रयोग सबसे पहले 1931 में आर. एफ. काहन ने अपने लेख 'The Relation for Home Investment to Unemployment' में किया था जिसे रोजगार गुणक कहा जाता है। केन्ज ने अपनी प्रसिद्ध पुस्तक 'The General Theory fo Employment, Interest and Money' (1936) में निवेश गुणक का प्रतिपादन किया है।

    गुणक से अभिप्राय निवेश में होने वाले परिवर्तन के कारण आय में होने वाले परिवर्तन से है। जब निवेश में वृद्धि होती है तो आय में उतनी ही वृद्धि नहीं होती जितनी के निवेश में वृद्धि हुई है बल्कि आय में निवेश की वृद्धि की तुलना में कई गुणा अधिक वृद्धि होती है। जितने गुणा यह वृद्धि होती है उसे ही गुणक कहते है।

    केन्ज का गुणक का सिद्धान्त निवेश तथा आय में सम्बन्ध स्थापित करता है। इसलिए इसे निवेश गुणक कहते है। केन्ज के अनुसार, “निवेश गुणक से ज्ञात होता है कि जब कुल निवेश में वृद्धि की जाएगी तो आय में जो वृद्धि होगी वह निवेश में होने वाली वृद्धि से ज्ञ गुणा अधिक होगी।“ अन्य शब्दों में, गुणक की धारणा निवेश में प्रारम्भिक परिवर्तन से परिणामस्वरुप आय में होने वाले अन्तिम परिवर्तन के सम्बन्ध को व्यक्त करती है।

    निवेश गुणक की प्रक्रिया[संपादित करें]

    गुणक की प्रक्रिया का विश्लेषण दो प्रकार से किया जा सकता हैः

    तुलनात्मक स्थैतिक विश्लेषण[संपादित करें]

    केन्ज की गुणक की धारणा तुलनात्मक स्थैतिक धारणा है जो बताती है कि निवेश में होने वाले परिवर्तन के कारण आय में अन्तिम रूप से कितना परिवर्तन होगा। तुलनात्मक स्थैतिक विश्लेषण में गुणक प्रक्रिया दो प्रकार होती हैः

    (१) गुणक की अनुकूल प्रक्रिया (Forward Action of the Multiplier) गुणक की अनुकूल प्रक्रिया के अन्तर्गत निवेश में होने वाली वृद्धि के कारण आय में कई गुणा अधिक वृद्धि होती है।

    (२) गुणक की प्रतिकूल प्रक्रिया (Backard Action fo the Multiplier) गुणक की प्रतिकूल प्रक्रिया के अन्तर्गत निवेश में प्रारम्भिक कमी के कारण आय में कई गुणा अधिक कमी होती है।

    इस प्रकार यह कहा जा सकता है कि गुणक दोधारी तलवार है। गुणक के कारण निवेश में होने वाली वृद्धि के कारण जहां आय में कई गुणा वृद्धि होती है उसी प्रकार निवेश में कमी होने के कारण आय में कई गुणा अधिक कमी होती है।

    स्रोत : hi.wikipedia.org

    किसके बढ़ने के फलस्वरूप निजी निवेश में वृद्धि की अधिक संभावना होगी ?

    DWQA Questions › Category: Questions › किसके बढ़ने के फलस्वरूप निजी निवेश में वृद्धि की अधिक संभावना होगी ? (A) ब्याज दर (B) शेयरों की कीमत (C) नई पूँजी पर अनुमानित प्राप्ति (D) व्यक्तिगत कर   Q. राष्ट्रीय कवि बालकवि बैरागी का वास्तविक नाम क्या था ? (A) जुगल दास (B) बालकिशन दास (C) टीकम …

    किसके बढ़ने के फलस्वरूप निजी निवेश में वृद्धि की अधिक संभावना होगी ?

    DWQA Questions › Category: Questions › किसके बढ़ने के फलस्वरूप निजी निवेश में वृद्धि की अधिक संभावना होगी ?

    (A) ब्याज दर (B) शेयरों की कीमत

    (C) नई पूँजी पर अनुमानित प्राप्ति

    (D) व्यक्तिगत कर

    Q. राष्ट्रीय कवि बालकवि बैरागी का वास्तविक नाम क्या था ?

    (A) जुगल दास (B) बालकिशन दास (C) टीकम दास (D) नंदराम दास

    Q. सात सागर, नौ नारायण एवं 84 महादेव की परिक्रमा मध्य प्रदेश के किस नगर में सम्पन्न होती है ?

    (A) अमरकण्टक (B) चित्रकूट (C) ओंकारेश्वर (D) उज्जैन

    Q. राजा भोज के किस कवि ने जैनधर्म अपना लिया था?

    (A) ग्रंथपाल (B) राजपाल (C) महिपाल (D) धनपाल

    Q. विश्वप्रसिद्ध पर्यटन स्थल सांची का प्राचीन नाम यह भी था?

    (A) काकणाम (B) वेत्रवती (C) बेसनगरी (D) दशपुर

    Q. टंट्या भील का वास्तविक नाम क्या था ?

    (A) टांटिया (B) गणपत (C) बिजनिया (D) टण्ड्रा

    Q. जेनेटिक कोड़ की विशिष्ट विशेषताएँ है

    i. यह प्रायः सार्वत्रिक होता है

    ii. यह तीन न्युक्लियोटाइड क्षारकों का बना होता है जो 20 अमिनो अम्लों के संगत होते हैं

    iii. यह अनतिव्यापी, गैर-अस्पष्ट एवं कोमारहित होता है

    iv. इनमें एक प्रारम्भन एवं एक समापन कोडॉन होता है इनमें से कौन-सा कथन सही है ?

    (A) केवल i, ii और iv

    (B) केवल i, iii और iv

    (C) केवल i, ii और iii

    (D) उपरोक्त सभी

    Q. राष्ट्रीय विषाणु-विज्ञान संस्थान कहाँ स्थित है ?

    (A) पुणे (B) हैदराबाद (C) मुम्बई (D) लखनऊ

    Q. भारत ने किस देश के साथ नीली अर्थव्यवस्था (समुद्री संसाधन) पर सतत् विकास हेतु साझेदारी के लिए टास्क फोर्स का निर्माण किया है ?

    (A) स्विट्ज़रलैंड (B) नॉर्वे (C) स्वीडन (D) फ्रांस

    स्रोत : examvictory.com

    [Solved] किसके बढ़ने के फलस्वरूप निजी निवेश में वृद्धि �

    सही उत्तर नई पूंजी पर अपेक्षित प्रतिफल है।Key Points एक बड़ा बजट घाटा वित्तीय पूंजी की मांग को बढ़ाएगा। यदि निजी बचत और व्याप�

    Home General Knowledge Economy Industrial Sector PPP and Other Investment models

    Question

    Download Solution PDF

    किसके बढ़ने के फलस्वरूप निजी निवेश में वृद्धि की अधिक संभावना होगी?

    This question was previously asked in

    UPSSSC PET 24 Aug 2021 Shift 2 (Series A) (Official Paper)

    Download PDF Attempt Online

    View all UPSSSC PET Papers >

    ब्याज दर शेयरों की कीमत

    नई पूंजी पर अपेक्षित प्रतिफल

    व्यक्तिगत कर

    Answer (Detailed Solution Below)

    Option 3 : नई पूंजी पर अपेक्षित प्रतिफल

    India's Super Teachers for all govt. exams Under One Roof

    FREE

    Demo Classes Available*

    Enroll For Free Now

    Detailed Solution

    Download Solution PDF

    सही उत्तर नई पूंजी पर अपेक्षित प्रतिफल है।

    Key Pointsएक बड़ा बजट घाटा वित्तीय पूंजी की मांग को बढ़ाएगा।यदि निजी बचत और व्यापार संतुलन समान रहता है, तो भौतिक पूंजी में निजी निवेश के लिए कम वित्तीय पूंजी उपलब्ध होगी।नई पूंजी पर अपेक्षित उपज में वृद्धि के परिणामस्वरूप निजी निवेश में वृद्धि होने की सबसे अधिक संभावना होगी।

    जब सरकारी उधार उपलब्ध वित्तीय पूंजी को वसूल लेता है और भौतिक पूंजी में निजी निवेश के लिए कम बचता है, तो परिणाम को क्राउडिंग आउट के रूप में जाना जाता है।

    ऐसी स्थिति जब ब्याज दरों में वृद्धि से निजी निवेश खर्च में कमी आती है, जिससे कुल निवेश खर्च की प्रारंभिक वृद्धि कम हो जाती है, इसे क्राउडिंग आउट इफेक्ट कहा जाता है।

    Download Solution PDF

    Share on Whatsapp

    India’s #1 Learning Platform

    Start Complete Exam Preparation

    Daily Live MasterClasses

    Practice Question Bank

    Mock Tests & Quizzes

    Get Started for Free

    Download App

    Trusted by 3,07,18,747+ Students

    ‹‹ Previous Ques Next Ques ››

    More Industrial Sector Questions

    Q1. भारत की पहली औद्योगिक नीति संकल्प की घोषणा वर्ष __________ में की गई थी।Q2. Till today, small scale and cottage industries are facing ______ problems.Q3. किस संगठन ने गुजरात के एक ब्लॉक में प्राकृतिक गैस की खोज की?Q4. कृषि पंप सेटों के चूषण और वितरण लाइनों में उपयोग किए जाने वाले UPVC पाइपों पर निम्नलिखित में से कौन सा प्रमाणन लोगो स्कैन पाया जाता है?Q5. जुलाई 2021 तक, निम्नलिखित में से कौन सा सार्वजनिक क्षेत्र का उद्यम 'महारत्न सूची' के अंतर्गत आता है?Q6. प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अन्तर्गत किशोर बकेट की ऋण सीमा क्या है ?Q7. वर्ष 2015-16 में भारत के औद्योगिक वृद्धि दर को बढ़ाने में किस क्षेत्र की वृद्धि दर अधिक रही है?Q8. निम्न में से कौन-सा व्यक्ति प्राथमिक क्षेत्र में कार्य करता है?Q9. Which of the following objectives regarding Skill India Mission is incorrect?Q10. Which among the following industries generates invisible exports?

    More Economy Questions

    Q1. Bengal to set up 500 km of industrial corridor as per WBIDC Chairman. Who is the Chairman of WBIDC?Q2. Rajasthan gets its first L- root server. Which is the first Indian state to get an L - root server?Q3. India's first hybrid power plant in Rajasthan is established.  The plant is commissioned by which of the following organization?Q4. The Karnataka health department has started the process of compiling a database of all healthcare professionals which includes Doctors, Nurses, and Pharmacists under the Ayushman Bharat Digital Mission. The portal for the online database is being developed by whom of the following?Q5. निम्नलिखित में से किस वर्ष में एकाधिकार और अवरोधक व्यापार व्यवहार अधिनियम (MRTP) प्रभावी हुआ?Q6. वैध मुद्रा वह है जिसका कोई _____।Q7. एक उपभोक्ता का इष्टतम बंडल बजट रेखा और ______ के बीच स्पर्शरेखा के बिंदु पर स्थित होता है।Q8. निम्नलिखित में से कौन सा कथन 'अस्थायी विनिमय दर' के लिए उचित है?Q9. निम्न में से किसे 'उस प्रक्रिया के रूप में परिभाषित किया जा सकता है, जिसमें सरकार एक या एक से अधिक कंपनियों को अधिकांश हिस्सेदारी (stakes) बेचती है, जबकि सरकार के पास अभी भी इसका स्वामित्व होता है और अल्पसंख्यक हितधारक (minority stakeholder) के रूप में बनी रहती है?Q10. भारत की पहली औद्योगिक नीति संकल्प की घोषणा वर्ष __________ में की गई थी।

    स्रोत : testbook.com

    Do you want to see answer or more ?
    Mohammed 2 month ago
    4

    Guys, does anyone know the answer?

    Click For Answer