if you want to remove an article from website contact us from top.

    partition horrors remembrance day in hindi

    Mohammed

    Guys, does anyone know the answer?

    get partition horrors remembrance day in hindi from screen.

    Partition Horrors Remembrance Day

    Partition Horrors Remembrance Day

    From Wikipedia, the free encyclopedia

    Jump to navigation Jump to search

    Partition Horrors Remembrance Day

    Hindus and Sikhs migrating by train from Bannu to India

    Official name English: Partition Horrors Remembrance Day

    Hindi: विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस

    Observed by  India

    Significance In memory of the struggles and sacrifices of people during the partition[1]

    Date 14 August

    Next time 14 August 2022

    Frequency Annual

    Started by Government of India

    Announced by PM Narendra Modi on 15 August 2021

    Related to Partition of India

    Partition Horrors Remembrance Day is a national memorial day in India on 14 August that commemorates the victims and sufferings of people during the Partition of India.

    The day remembers the sufferings of many Indians during the partition. Several families were displaced and many lost their lives in the partition.[2] It aims to remind Indians the need to remove social divisions, disharmony and to further strengthen the spirit of oneness, social harmony and human empowerment.[3]

    The partition had left 10 to 20 million people displaced and left 2 hundred thousand to 2 million dead.[4][a]

    [5][6][7][8][b]

    Contents

    1 Background

    2 Observance of Remembrance Day

    3 See also 4 Notes 5 References

    Background[edit]

    Main article: Partition of India

    Lord Mountbatten meets Nehru, Jinnah and other Leaders to plan the Partition of India in 1947.

    The Partition was the division of British India[c] into two independent Dominions: India and Pakistan.[9] The two states have since gone through further reorganization: the Dominion of India is today the Republic of India (since 1950); while the Dominion of Pakistan was composed of what is known today as the Islamic Republic of Pakistan (since 1956) and the People's Republic of Bangladesh (since 1971). The partition involved the division of two provinces, Bengal and Punjab, based on district-wide non-Muslim or Muslim majorities. The partition also saw the division of the British Indian Army, the Royal Indian Navy, the Indian Civil Service, the railways, and the central treasury. The partition was outlined in the and resulted in the dissolution of the British Raj, i.e. Crown rule in India. The two self-governing independent Dominions of India and Pakistan legally came into existence at midnight on 15 August 1947.

    The partition displaced between 10 and 20 million people along religious lines, creating overwhelming refugee crises in the newly constituted dominions.[5][6][7][8] There was large-scale violence, with estimates of the loss of life accompanying or preceding the partition disputed and varying between several hundred thousand and two million.[4][a] The violent nature of the partition created an atmosphere of hostility and suspicion between India and Pakistan that affects their relationship to this day.

    Observance of Remembrance Day[edit]

    On 14 August 2021, Prime Minister Narendra Modi declared that the 14 of August annually will be remembered as to remind the nation of the sufferings and sacrifices of Indians during the partition in 1947.

    On 14 August 2021, Prime Minister Narendra Modi said, "Partitions pains can never be forgotten. Millions of our sisters and brothers were displaced and many lost their lives due to mindless hate and violence. In memory of the struggles and sacrifices of our people, 14th August will be observed as Partition Horrors Remembrance Day, May the Partition Horrors Remembrance Day keep reminding us of the need to remove the poison of social divisions, disharmony and further strengthen the spirit of oneness, social harmony and human empowerment."[10]

    See also[edit]

    Opposition to the partition of India

    The 1947 Partition Archive

    Notes[edit]

    ^ Jump up to:

    "The death toll remains disputed with figures ranging from 200,000 to 2 million."[4]

    ^ "Some 12 million people were displaced in the divided province of Punjab alone, and up to 20 million in the subcontinent as a whole."[8]^ British India consisted of those regions of the British Raj, or the British Indian Empire, which were directly administered by Britain; other regions, of nominal sovereignty, that were indirectly ruled by Britain, were called princely states.

    References[edit]

    ^ "'In Memory of Sacrifices & Struggles': PM Modi Marks August 14 as Partition Horrors Remembrance Day". . 14 August 2021.^ "August 14 to be observed as Partition Horrors Remembrance Day: PM Modi | India News - Times of India". .^ "14 August will be observed as Partition Horrors Remembrance Day: PM Modi". . 14 August 2021.

    ^ Jump up to:

    Talbot & Singh 2009, p. 2.

    ^ Jump up to:

    . Springer Science & Business Media. 2012. p. 6. ISBN 978-9400953093.

    स्रोत : en.wikipedia.org

    Partition Horrors Remembrance Day: 14 अगस्त पर अब 'बंटवारे के दर्द' को याद करेगा पूरा देश, PM मोदी ने की घोषणा

    मोदी ने कहा कि विभाजन के कारण हुई हिंसा और नफरत से लाखों लोग विस्थापित हो गए और कई ने जान गंवा दी - partitions pain can never be forgotten in memory of peoples sacrifices aug 14 will be observed as partition horrors remembrance day pm

    Partition Horrors Remembrance Day: 14 अगस्त पर अब 'बंटवारे के दर्द' को याद करेगा पूरा देश, PM मोदी ने की घोषणा

    Partition Horrors Remembrance Day: 14 अगस्त पर अब 'बंटवारे के दर्द' को याद करेगा पूरा देश, PM मोदी ने की घोषणा मोदी ने कहा कि विभाजन के कारण हुई हिंसा और नफरत से लाखों लोग विस्थापित हो गए और कई ने जान गंवा दी

    अपडेटेड AUG 15, 2021 पर 8:36 AM | स्रोत :MONEYCONTROL.COM

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने शनिवार को घोषणा की कि 14 अगस्त को लोगों के संघर्षों और बलिदान की याद में विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस (Partition Horrors Remembrance Day) के रूप में मनाया जाएगा और कहा कि बंटवारे के दर्द को कभी भी भुलाया नहीं जा सकता। मोदी ने कहा कि विभाजन के कारण हुई हिंसा और नासमझी में की गई नफरत से लाखों लोग विस्थापित हो गए और कई ने जान गंवा दी।

    प्रधानमंत्री ने कहा कि विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस, "सामाजिक विभाजन, वैमनस्यता के जहर को दूर करने और एकता, सामाजिक सद्भाव और मानव सशक्तीकरण की भावना को और मजबूत करने की जरूरत को याद दिलाए।"

    संबंधित खबरें

    Chinese Spy Ship: श्रीलंका में एक हफ्ते तक डेरा डालेगा चीन का ये शक्तिशाली ट्रैकिंग शिप, भारतीय नौसेना और ISRO के लिए बड़ा खतरा

    अपडेटेड AUG 13, 2022 पर 10:16 PM

    Bihar Politics: महागठबंधन NDA को देने जा रहा है एक और झटका, तीन सांसद JDU, RJD को देने वाले हैं समर्थन

    अपडेटेड AUG 13, 2022 पर 9:19 PM

    Himachal Pradesh: 'सामूहिक धर्मांतरण' की रोकथाम के लिए विधानसभा में ध्वनिमत से पारित हुआ विधेयक, पढ़ें पूरी डिटेल

    अपडेटेड AUG 13, 2022 पर 8:06 PM

    भारत रविवार को अपना 75वां स्वतंत्रता दिवस मनाएगा। हालांकि, उस दिन आयोजित होने वाले किसी भी स्मारक कार्यक्रम पर कोई जानकारी नहीं दी गई है। ये घोषणा भारत की 75वीं स्वतंत्रता वर्षगांठ की पूर्व संध्या पर की गई है।

    आजादी के 75वें साल में प्रवेश करने की तैयारी, कैसा रहा 74 साल का सफर, आगे क्या हैं चुनौतियां

    आम नागरिकों द्वारा राष्ट्रगान को रिकॉर्ड करने और उन्हें राष्ट्रपति भवन की वेबसाइट पर अपलोड करने सहित, "अमृत महोत्सव" की वर्षगांठ से जुड़े साल भर चलने वाले कार्यक्रमों की सीरीज तैयार की गई है।

    पाकिस्तान को 1947 में ब्रिटिश औपनिवेशिक शासन द्वारा भारत के विभाजन के बाद एक मुस्लिम देश के रूप में तराशा गया था। लाखों लोग विस्थापित हुए थे और बड़े पैमाने पर दंगे भड़कने के कारण कई लाख लोगों की जान चली गई थी।

    सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

    MoneyControl News

    First Published: Aug 14, 2021 12:24 PM

    हिंदी में शेयर बाजार, Stock Tips,  न्यूज, पर्सनल फाइनेंस और बिजनेस से जुड़ी खबरें सबसे पहले मनीकंट्रोल हिंदी पर पढ़ें. डेली मार्केट अपडेट के लिए Moneycontrol App  डाउनलोड करें।

    स्रोत : hindi.moneycontrol.com

    Partition Horrors Remembrance Day, PM Narendra Modi Will Attend Program Tomorrow ANN

    Independence Day 2022: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 अगस्त 2021 को घोषणा करते हुए विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस की घोषणा करते हुए कहा था कि यह दिन हमें भेदभाव, वैमनस्य और दुर्भावना के जहर को खत्म करने के लिए प्रेरित करेगा.

    Partition Horrors Remembrance Day: कल होगा विभाजन विभीषिका दिवस, पीएम नरेंद्र मोदी होंगे शामिल

    Partition Horrors Remembrance Day: कल होगा विभाजन विभीषिका दिवस, पीएम नरेंद्र मोदी होंगे शामिल Independence Day 2022: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 अगस्त 2021 को घोषणा करते हुए विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस की घोषणा करते हुए कहा था कि यह दिन हमें भेदभाव, वैमनस्य और दुर्भावना के जहर को खत्म करने के लिए प्रेरित करेगा.

    By: नीरज कुमार पाण्डेय | Updated at : 13 Aug 2022 10:38 PM (IST)

    FOLLOW US:

    बीजेपी कार्यालय में लगी तस्वीर (@JPNadda)

    Partition Horrors Remembrance Day: देश में 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाया जाएगा. इसको लेकर देश भर में काफी तैयारी भी चल रही है. 75वें स्वंतत्रता दिवस को देखते हुए देश में 'आजादी का अमृत महोत्सव' और 'हर घर तिरंगा अभियान चलाया' जा रहा है. इन सबके बीच हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि 1947 में आजादी (15 अगस्त) से पहले देश का विभाजन भी दो हिस्सों में हुआ था. एक हिस्सा पाकिस्तान बना और दूसरा भारत. इस विभाजन में दंगे हुए और कई महिलाओं के साथ दुर्व्यहार भी हुआ. लाखों लोगों विस्थापित हुए थे.

    इसी को देखते हुए कल यानी 14 अगस्त को पूरे देश में 'विभाजन विभीषिका दिवस' कार्यक्रम होगा.  तालकटोरा स्टेडियम में होने वाले इस प्रोग्राम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल होंगे. पीएम मोदी विभाजन से हुई त्रासदी को लेकर भाषण देंगे. पिछले साल यानी 2021 में ही पीएम मोदी ने  'विभाजन विविशिका दिवस' मनाने की घोषणा की थी.

    विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस की पीएम मोदी ने क्यो घोषणा की थी? 

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 अगस्त 2021 को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस की घोषणा करते हुए कहा था कि यह दिन हमें भेदभाव, वैमनस्य और दुर्भावना के जहर को खत्म करने के लिए प्रेरित करेगा बल्कि इससे मानवीय संवेदना, एकता और सामाजिक सद्धाव मजबूत होगा. बता दें कि 14 अगस्त को पाकिस्तान अपना स्वतंत्रता दिवस मनाता है. जब हिंदुस्तान का विभाजन हुआ तब पाकिस्तान को पूर्वी हिस्से पाक के हिस्से में गया था. साल 1971 भारत से युद्ध में पाकिस्तान के युद्ध हारने पर यह क्षेत्र बांग्लादेश बन गया.

    यह भी पढ़ें-Independence Day 2022: जोधपुर में इस स्वतंत्रता सेनानी की मौत पर जला डाले गए थे सोजती गेट के दरवाजे, अंग्रेजों ने दिया था '10 नंबरी' का तमगाIndependence Day India 2022: 'जेल डायरी' में सिमटी हैं स्वतंत्रता आंदोलन के गुमनाम नायकों की कहानियां, पढ़कर आ जाएंगे आंखों में आंसू

    Published at : 13 Aug 2022 10:38 PM (IST) Tags: Independence Day narendra Modi Partition Horrors Remembrance Day हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: News in Hindi

    फोर यू

    यह भी पढ़ें

    76th Independence Day: स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर आज राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का राष्ट्र के नाम पहला संबोधन, इन चैनलों पर प्रसारित होगा कार्यक्रम

    MP Women Rescued: 'हिम्मत नहीं खोई और बेटे को याद करती रही', नदी से रेस्क्यू की गई महिला ने बताया कैसे मौत को दी मात

    Har Ghar Tiranga: 'भारत में एक विधान, एक निशान और एक संविधान चलेगा', जेपी नड्डा का बड़ा बयान

    Breaking News Live Update: दिल्ली में मिला मंकीपॉक्स का पांचवां मामला, नाइजीरिया से लौटी 22 साल की युवती हुई संक्रमित

    Farooq Abdullah Covid Positive: पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला को हुआ कोरोना, दूसरी बार हुए हैं संक्रमित

    एबीपी के साथ स्किल बढ़ाएं

    पापुलर कोर्सेज / लोकप्रिय पाठ्यक्रम

    माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल स्प्रेडशीट्स Intermediate 3h ₹199     ₹999

    कोर्स सर्टिफिकेशन 1,20,000 नौकरियां उपलब्ध

    ऑटोकैड ऑटोकैड मास्टरी Beginner 10h ₹699     ₹14000

    कोर्स सर्टिफिकेशन हिंदी में लाइव इंटरएक्टिव क्लास

    टॉप स्टोरीज

    Delhi News: दिल्ली में यमुना नदी खतरे के निशान से हुई ऊपर, बाढ़ की आशंका को देखते हुए निचले इलाकों से निकाले जा रहे लोग

    Horoscope Today 14 August 2022: आज का राशिफल इन राशियों के लिए है विशेष, जानें सभी राशियों का भविष्यफल

    Raju Sivastava Health Update: राजू श्रीवास्तव की हालत में धीरे-धीरे हो रहा है सुधार, भतीजे ने बताया कैसी है अब तबीयत

    India-China: 'चीन को भारतीय क्षेत्र में हमने नहीं घुसने दिया', रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का बड़ा बयान

    20 साल बाद टीवी पर लौटा Kasautii Zindagii Kay शो, दिल जीतने आई प्रेरणा और अनुराग की जोड़ी

    ABOUT US FEEDBACK CAREERS ADVERTISE WITH US SITE MAP DISCLAIMER CONTACT US PRIVACY POLICY

    This website follows the DNPA code of Ethics

    स्रोत : www.abplive.com

    Do you want to see answer or more ?
    Mohammed 6 month ago
    4

    Guys, does anyone know the answer?

    Click For Answer