if you want to remove an article from website contact us from top.

    tata steel में होगा tata group की सात मेटल कंपनियों का विलय, जानिए क्या होगा share swap रेशियो

    Mohammed

    Guys, does anyone know the answer?

    get tata steel में होगा tata group की सात मेटल कंपनियों का विलय, जानिए क्या होगा share swap रेशियो from screen.

    Tata Steel में होगा Tata Group की सात मेटल कंपनियों का विलय, जानिए क्या होगा Share Swap रेशियो

    इंडिपेंडेंट डायरेक्टर्स की कमेटी और ऑडिट कमेटी ने टाटा स्टील में सात मेटल कंपनियों के विलय की सिफारिश की थी। टाटा स्टील के बोर्ड ने इस सिफारिश पर विचार करने के बाद विलय प्रस्ताव को मंजूरी दे दी

    Tata Steel में होगा Tata Group की सात मेटल कंपनियों का विलय, जानिए क्या होगा Share Swap रेशियो

    Tata Steel में होगा Tata Group की सात मेटल कंपनियों का विलय, जानिए क्या होगा Share Swap रेशियो इंडिपेंडेंट डायरेक्टर्स की कमेटी और ऑडिट कमेटी ने टाटा स्टील में सात मेटल कंपनियों के विलय की सिफारिश की थी। टाटा स्टील के बोर्ड ने इस सिफारिश पर विचार करने के बाद विलय प्रस्ताव को मंजूरी दे दी

    अपडेटेड SEP 23, 2022 पर 10:28 AM | स्रोत :MONEYCONTROL.COM

    इस विलय के लिए शेयरों के एक्सचेंज रेशियो भी तय कर दिए गए हैं। इस विलय का मकसद टाटा ग्रुप के होल्डिंग स्ट्रक्चर को आसान बनाना है।

    Tata Steel Tinplate Message Set Alert NSELIVE 23 Sep, 2022 15:59 104.30 0.70 (0.68%) Volume 109765520

    Todays L/H 103.75107.90

    More

    Tata Group की सात मेटल कंपनियों का विलय Tata Steel में होगा। टाटा स्टील के बोर्ड ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। जिन कंपनियों का विलय होगा उनमें-Tata Steel Long Products, The Tinplate Company of India, Tata Metaliks, TRF Limited, Indian Steel & Wire Products, Tata Steel Mining और S&T Mining Company शामिल हैं।

    इंडिपेंडेंट डायरेक्टर्स की कमेटी और ऑडिट कमेटी ने टाटा स्टील में सात मेटल कंपनियों के विलय की सिफारिश की थी। टाटा स्टील के बोर्ड ने इस सिफारिश पर विचार करने के बाद विलय प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। टाटा ग्रुप की प्रेस रिलीज में कहा गया है कि शेयरहोल्डर्स की वैल्यू को अनलॉक करने के मौके के लिए मर्ज्ड एंटिटी के रिसोर्सेज को पूल किया गया है।

    संबंधित खबरें

    कॉलेज की डिग्री नहीं, होना चाहिए सही सर्टिफिकेट! भर्तियों के लिए ऐसे स्ट्रैटजी बना रहा इंडिया इंक

    अपडेटेड SEP 23, 2022 पर 5:20 PM

    Tata Steel के सीएफओ Koushik Chatterjee ने बताई मेटल कंपनियों के विलय की वजह

    अपडेटेड SEP 23, 2022 पर 2:38 PM

    देश के कई बड़े अस्पताल मरीजों को लगा रहे हैं चूना, इलाज के लिए वसूल रहे जरूरत से ज्यादा कीमत

    अपडेटेड SEP 23, 2022 पर 2:43 PM

    यह भी पढ़ें : Business Idea: सिर्फ 10,000 रुपये में कहीं भी शुरू करें यह सुपरहिट बिजनेस, बदल जाएगी किस्मत, रोजाना होगी बंपर कमाई

    इस विलय के लिए शेयरों के एक्सचेंज रेशियो भी तय कर दिए गए हैं। इस विलय का मकसद टाटा ग्रुप के होल्डिंग स्ट्रक्चर को आसान बनाना है। 2019 के बाद से टाटा स्टील ने एसोसिएटेड एंटिटीज की संख्या में 116 की कमी की है। 72 सब्सिडियरीज का वजूद खत्म हो गया है। 20 एसोसिएट्स और जेवी को बंद कर दिया गया है और 24 कंपनियों के लिक्विडेशन का प्रोसेस चल रहा है।

    विलय की हर स्कीम को अब रेगुलेटरी एप्रूवल प्रोसेस से गुजरना होगा। विलय के लिए स्टॉक एक्सचेंजों और NCLT का एप्रूवल भी जरूरी होगा। इस विलय के बाद टाटा स्टील ग्रुप के मेटल कारोबार पर फोकस कर सकेगी। इससे ग्रोथ बढ़ेगी और ऑपरेशनल एफिशियंसी में भी सुधार होगा। ग्रुप के मेटल कारोबार में सिनर्जी बढ़ेगी।

    टाटा समूह ने कहा है कि इस विलय से रिसोर्सेज का अधिकतम इस्तेमाल हो सकेगा। एक ही तरह के कई कंप्लायंस रिक्वायरमेंट की भी जरूरत नहीं पड़ेगी। साथ ही एडमिनिस्ट्रेटिव एक्सपेंसेज में भी कमी आएगी।

    टाटा स्टील के बोर्ड ने प्रस्तावित विलय के लिए पांच मेटल कंपनियों के शेयर स्वैप रेशियो को मंजूरी दी है। इसके मुताबिक, टाटा स्टील लॉन्ग प्रोडक्ट्स के हर 10 शेयर के बदले शेयरधारकों को टाटा स्टील के 67 शेयर मिलेंगे।

    द टिनप्लेट कंपनी ऑफ इंडिया के हर 10 शेयर के बदले शेयरधारकों को टाटा स्टील के 33 शेयर मिलेंगे। टाटा मेटालिक्स के हर 10 शेयरों के बदले शेयरधारकों को टाटा स्टील के 79 शेयर मिलेंगे। टीआरएफ के हर 10 शेयरों के बदले शेयरधारक को टाटा स्टील के 17 शेयर मिलेंगे।

    इस विलय की खबर के बाद टाटा स्टील के शेयरों में 23 सितंबर (शुक्रवार) को तेजी दिखी। विलय होने वाली कुछ कंपनियो के शेयरों पर दबाव देखने को मिला। टाटा स्टील लॉन्ग प्रोडक्ट्स का शेयर 8 फीसदी से ज्यादा गिरकर 688 रुपये पर चल रहा था।

    टिनप्लेट कंपनी ऑफ इंडिया का शेयर 6 फीसदी लुढ़क कर 318 रुपये पर चल रहा था। टाटा मेटालिक्स का शेयर 3 फीसदी गिरकर 778 रुपये पर चल रहा था। टीआरएफ का शेयर 5 फीसदी की कमजोरी के साथ 356 रुपये पर था।

    MoneyControl News

    First Published: Sep 23, 2022 9:38 AM

    हिंदी में शेयर बाजार, Stock Tips,  न्यूज, पर्सनल फाइनेंस और बिजनेस से जुड़ी खबरें सबसे पहले मनीकंट्रोल हिंदी पर पढ़ें. डेली मार्केट अपडेट के लिए Moneycontrol App  डाउनलोड करें।

    स्रोत : hindi.moneycontrol.com

    Tata Steel में होगा Tata Group की सात मेटल कंपनियों का विलय, जानिए क्या होगा शेयर स्वॉप रेशियो

    Tata Group की सात मेटल कंपनियों का विलय Tata Steel में होगा। टाटा स्टील के बोर्ड ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। जिन कंपनियों का विलय होगा उनमें-Tata Steel Long Products, The Tinplate Company of India, Tata Metaliks, TRF Limited, Indian Steel & Wire Products, Tata Steel Mining और S&T Mining Company शामिल हैं। इंडिपेंडेंट डायरेक्टर्स की कमेटी और ऑडिट कमेटी ने टाटा स्टील में सात मेटल कंपनियों के विलय की सिफारिश की थी। टाटा स्टील के बोर्ड ने इस...

    Tata Group की सात मेटल कंपनियों का विलय Tata Steel में होगा। टाटा स्टील के बोर्ड ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। जिन कंपनियों का विलय होगा उनमें-Tata Steel Long Products, The Tinplate Company of India, Tata Metaliks, TRF Limited, Indian Steel & Wire Products, Tata Steel Mining और S&T Mining Company शामिल हैं। इंडिपेंडेंट डायरेक्टर्स की कमेटी और ऑडिट कमेटी ने टाटा स्टील में सात मेटल कंपनियों के विलय की सिफारिश की थी। टाटा स्टील के बोर्ड ने इस सिफारिश पर विचार करने के बाद विलय प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। टाटा ग्रुप की प्रेस रिलीज में कहा गया है कि शेयरहोल्डर्स की वैल्यू को अनलॉक करने के मौके के लिए मर्ज्ड एंटिटी के रिसोर्सेज को पूल किया गया है। यह भी पढ़ें : Business Idea: सिर्फ 10,000 रुपये में कहीं भी शुरू करें यह सुपरहिट बिजनेस, बदल जाएगी किस्मत, रोजाना होगी बंपर कमाई इस विलय के लिए शेयरों के एक्सचेंज रेशियो भी तय कर दिए गए हैं। इस विलय का मकसद टाटा ग्रुप के होल्डिंग स्ट्रक्चर को आसान बनाना है। 2019 के बाद से टाटा स्टील ने एसोसिएटेड एंटिटीज की संख्या में 116 की कमी की है। 72 सब्सिडियरीज का वजूद खत्म हो गया है। 20 एसोसिएट्स और जेवी को बंद कर दिया गया है और 24 कंपनियों के लिक्विडेशन का प्रोसेस चल रहा है। विलय की हर स्कीम को अब रेगुलेटरी एप्रूवल प्रोसेस से गुजरना होगा। विलय के लिए स्टॉक एक्सचेंजों और NCLT का एप्रूवल भी जरूरी होगा। इस विलय के बाद टाटा स्टील ग्रुप के मेटल कारोबार पर फोकस कर सकेगी। इससे ग्रोथ बढ़ेगी और ऑपरेशनल एफिशियंसी में भी सुधार होगा। ग्रुप के मेटल कारोबार में सिनर्जी बढ़ेगी। टाटा समूह ने कहा है कि इस विलय से रिसोर्सेज का अधिकतम इस्तेमाल हो सकेगा। एक ही तरह के कई कंप्लायंस रिक्वायरमेंट की भी जरूरत नहीं पड़ेगी। साथ ही एडमिनिस्ट्रेटिव एक्सपेंसेज में भी कमी आएगी। टाटा स्टील के बोर्ड ने प्रस्तावित विलय के लिए पांच मेटल कंपनियों के शेयर स्वॉप रेशियो को मंजूरी दी है। इसके मुताबिक, टाटा स्टील लॉन्ग प्रोडक्ट्स के हर 10 शेयर के बदले शेयरधारकों को टाटा स्टील के 67 शेयर मिलेंगे। द टिनप्लेट कंपनी ऑफ इंडिया के हर 10 शेयर के बदले शेयरधारकों को टाटा स्टील के 33 शेयर मिलेंगे। टाटा मेटालिक्स के हर 10 शेयरों के बदले शेयरधारकों को टाटा स्टील के 79 शेयर मिलेंगे। टीआरएफ के हर 10 शेयरों के बदले शेयरधारक को टाटा स्टील के 17 शेयर मिलेंगे। इस विलय की खबर के बाद टाटा स्टील के शेयरों में 23 सितंबर (शुक्रवार) को तेजी दिखी। विलय होने वाली कुछ कंपनियो के शेयरों पर दबाव देखने को मिला।

    प्रायोजित सामग्री

    स्रोत : www.msn.com

    Tata Steel में मेगा मर्जर: टाटा ग्रुप ने क्यों लिया यह फैसला? क्‍या होगा मर्जर रेश्‍यो, जानिए पूरी डीटेल

    Tata Steel Mega Merger why did tata group decided amalgamation of its metals companies in tata steel what are share swap ratio here all you need to know

    होम »मार्केट्स

    Tata Steel में मेगा मर्जर: टाटा ग्रुप ने क्यों लिया यह फैसला? क्‍या होगा मर्जर रेश्‍यो, जानिए पूरी डीटेल

    Tata Steel Mega Merger: टाटा स्‍टील में ग्रुप की मेटल्‍स कंपनियों के इस मेगा मर्जर पर अहम सवाल यह है कि टाटा ग्रुप ने यह फैसला क्‍यों लिया? साथ ही टाटा स्‍टील में मर्ज होने वाली कंपनियों को इसके कितने शेयर स्‍वैप में मिलेंगे.

    एप में देखें

    (Image: Reuters)

    Tata Steel Mega Merger: टाटा ग्रुप ने अपनी सभी मेटल्‍स कंपनियों का टाटा स्‍टील (Tata Steel) में विलय करने का फैसला किया है. टाटा स्‍टील में जिन 7 कंपनियों का विलय हो रहा है, उनमें टाटा स्‍टील लॉन्‍ग प्रोडक्ट्स, द टिनप्‍लेट कंपनी ऑफ लिमिटेड, टाटा मेटालिक्‍स लिमिटेड, TRF लिमिटेड, इंडियन स्‍टील एंड वायर प्रोडक्‍ट्स लिमिटेड, टाटा स्‍टील माइनिंग लिमिटेड और S&T माइनिंग कंपनी लिमिटेड शामिल है. इस फैसले के बाद टाटा स्टील के स्टॉक में 4 फीसदी से ज्‍यादा का उछाल देखने को मिला. निवेशकों को 5,000 करोड़ रुपये से ज्यादा का फायदा हुआ. इस मेगा मर्जर पर अहम सवाल यह है कि टाटा ग्रुप ने यह फैसला क्‍यों लिया और टाटा स्‍टील में मर्ज होने वाली कंपनियों को इसके कितने शेयर स्‍वैप में मिलेंगे.

    टाटा ग्रुप ने क्‍यों लिया फैसला? 

    टाटा स्‍टील में ग्रुप की 7 मेटल कंपनियों का मर्जर हो रहा है. इनमें से पांच लिस्‍टेड हैं और 2 अनलिस्‍टेड कंपनियां हैं. इस मेगामर्जर के संकेत मैनेजमेंट ने 2017 में ही दे दिए थे. इस विलय का एक बड़ा कारण यह है कि टाटा स्‍टील बड़ा ब्रांड है. टाटा ग्रुप इसे और बड़ा करना चाहता है. दरअसल, बेहतर ऑपरेशनल एफिशिएंसी, सिनर्जी और टाटा स्टील ब्रांड को और मजबूत करने के लिए फैसला लिया गया. ग्रुप में कई माइनिंग और मेटल कंपनीज हैं, तो उन्‍हें रॉयल्‍टी का भी भुगतान करना पड़ता है. अगर सातों कंपनियों का कंसॉलिडेशन (वैसे सातों कंपनियां कंसॉलिडेटेड फाइनेंस का पार्ट हैं) हो जाएगा, तो इनके रॉयल्‍टी भुगतान में फायदा देखने को मिलेगा. जब भी इस तरह का विलय होता है, तो सबसे बड़ा सवाल यह उभरकर आता है कि यह किसके पक्ष में है और किसके पक्ष में नहीं है. वैसे देखा जाए, तो टाटा स्‍टील को इसका एक ठीकठाक बेनेफिट है.

    क्‍या होगा मर्जर रेश्‍यो? 

    टाटा स्‍टील में प्रस्‍तावित विलय के लिए पांच लिस्‍टेड कंपनियों के लिए बोर्ड ने स्‍वैप रेश्‍यो को मंजूरी दी है. बोर्ड ने इंडिपेडेंट वैल्‍युज की रिपोर्ट के आधार पर शेयर स्‍वैप रेश्‍यो को मंजूरी दी है. इस मर्जर रेश्‍यो के अंतर्गत निवेशकों को टाटा स्‍टील लॉन्‍ग प्रोडक्‍ट्स (TSLP) के 10 शेयर के बदले टाटा स्‍टील के 67 शेयर मिलेंगे. इसी तरह, द टिनप्‍लेट कंपनी ऑफ इंडिया लिमिटेड (TCIL) के 10 शेयर के बदले टाटा स्‍टील के 33 शेयर, टाटा मेटालिंक्‍स के 10 शेयर के बदले टाटा स्‍टील के 79 शेयर और TRF लिमिटेड के 10 शेयर के बदले टाटा स्‍टील के 17 शेयर मिलेंगे.

    स्‍वैप रेश्‍यो से किसको फायदा 

    आनंदराठी इक्विटी रिसर्च की रिपोर्ट के मुताबिक, टाटा स्‍टील में मर्ज होने जा रही टाटा स्‍टील लॉन्‍ग प्रोडक्‍ट्स (TSLP) के साथ शेयर स्‍वैप 7.8 फीसदी डिस्‍काउंट पर है. यह टाटा स्‍टील के फेवर में है. इसी तरह, टाटा मेटालिंक्‍स के साथ शेयर स्‍वैप 2 फीसदी प्रीमियम पर है. यह टाटा मेटालिंक्‍स के फेवर में है. टिनप्‍लेट के साथ शेयर स्‍वैप 1 फीसदी प्रीमियम पर है. यह टिनप्‍लेट के फेवर में होगा. TRF के साथ शेयर स्‍वैप 53 फीसदी डिस्‍काउंट पर है. यह टाटा स्‍टील के फेवर में होगा.

    FY 2022 में किस कंपनी की कितनी इनकम

    टाटा स्टील            ₹2,43,959

    टाटा स्टील लॉन्ग        ₹6,802

    टिनप्लेट              ₹4,250

    टाटा मेटालिक्स         ₹2,746

    TRF LTD                     ₹127

    (इनकम करोड़ रुपये में)

    Good Luck Plant: चुंबक की तरह पैसा खींचकर ले आता है ये पौधा, सही दिशा में लगाएंगे तो करोड़पति बनते देर नहीं लगेगी

    Mükemmelliğin Tadını Çıkarın!

    Tefal

    Take A Deep Breath Before You See Jennifer Lopez Without Makeup

    TeleHealthDave

    35 Of The Most Beautiful Women In History

    Oceandraw

    Raju Srivastav Passes Away: करोड़ों के मालिक थे राजू श्रीवास्‍तव, जानिए अपने पीछे छोड़ गए कितनी संपत्ति

    Zee Business Hindi

    रुला गया हंसाने वाला; जाते-जाते भी छोड़ गया आखिरी मुस्कान, देखिए Raju Srivastav का आखिरी पोस्ट

    Zee Business Hindi

    Remember Her? Take a Deep Breath Before Seeing How She Looks Like Now

    Half Eddie

    Sherni Ka Video: बाड़े का गेट खोलती ही शेरनी ने शख्स को लपक लिया, फिर जो किया सहम जाएंगे- देखें वीडियो

    India.Com Hindi

    Dulha Dulhan Ka Video: नोट को मुंह में दबाए डांस फ्लोर पर उतर गई दुल्हन, माहौल देख दूल्हा भी खेल गया- देखें वीडियो

    India.Com Hindi

    10 Foods That Unclog Arteries

    High Tally

    Spiny Gourd: ये है दुनिया की सबसे ताकतवर सब्जी! शरीर को बना देती है चट्टान जैसा फौलाद

    Zee Business Hindi

    Gold Price Today: गिरावट के बावजूद 50,000 रुपये के करीब आया सोना, फेस्टिव सीजन से पहले चांदी की चमक भी तेज

    Zee Business Hindi

    texonlinemarket.com, En Uygun Fiyatlarla

    Texonlinemarket

    Philips Yeni Nesil Saç Düzleştiricisi

    Philips

    Tata Group दे रहा केवल 15 हजार में पार्टनर बनने का मौका, हर महीने होगी हजारों की कमाई, अपने घर से कर पाएंगे काम

    Zee Business Hindi

    Rakesh Jhunjhunwala Portfolio में सबसे 'पावरफुल' है Tata Group का ये शेयर, 'बिग बुल' का लंबे समय से रहा फेवरेट

    Zee Business Hindi

    Seç Market Bayisi Olan Kazanıyor!

    Seç Marketler

    2022-2023 sezonu yine beIN SPORTS’ta

    Digiturk

    Merdiven Asansörlerinin Maliyeti Sizi Şaşırtabilir

    Satılık Merdiven Asansörü | İlanlarda Ara

    Raju Srivastav Passes Away: ऑटो चलाने वाले राजू श्रीवास्‍तव कैसे बन गए सबके 'गजोधर भैया', जानें उनकी लाइफ जर्नी

    स्रोत : www.zeebiz.com

    Do you want to see answer or more ?
    Mohammed 7 day ago
    4

    Guys, does anyone know the answer?

    Click For Answer